नई दिल्ली: वेस्टइंडीज के महान तेज गेंदबाज कर्टनी वॉल्श का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अब उनके या कर्टली एम्बरोज जैसा कोई तेज गेंदबाज नहीं होगा लेकिन उन्होंने इस बात से इनकार किया कि तेज गेंदबाजी का स्तर गिरता जा रहा है. वॉल्श ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘आपको मेरे या कर्टली एम्बरोज जैसा कोई गेंदबाज देखने को नहीं मिलेगा क्योंकि हम रिटायर हो चुके हैं. लंबे समय पहले.’’ Also Read - ON THIS DAY IN 2015: मार्टिन गुपटिल ने खेली थी वर्ल्ड कप की सबसे बड़ी पारी, रोहित शर्मा का रिकॉर्ड टूटने से बाल-बाल बचा

उन्होंने कहा, ‘‘नयी पीढी अपनी तकनीक लेकर आयेगी. जब मैं खेलता था तो मैंने वही किया जो वेसले हाल और एंडी रॉबटर्स ने मुझे सिखाया. यदि इन सीनियर खिलाड़ियों से सलाह लेकर उस पर अमल किया जाये तो आप बेहतर गेंदबाज ही बनेंगे.’’ वॉल्श ने कहा कि आधुनिक तेज गेंदबाज खेल में समय के साथ होते जा रहे बदलावों से सामंजस्य बिठाने में कामयाब रहे हैं. Also Read - 500 टी20 मैच खेलने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बनेंगे कीरोन पोलार्ड

टीम इंडिया को मिला ‘रफ्तार का सौदागर’, पूर्व गेंदबाज ने जमकर की तारीफ Also Read - श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए विंडीज टीम में लौटे धमाकेदार ऑलराउंडर आंद्रे रसेल

उन्होंने कहा, ‘‘खेल के सभी पहलुओं में बदलाव आये हैं लिहाजा मुझे नहीं लगता कि तेज गेंदबाजी में गिरावट आ रही है .आपको अपने खेल में सुधारने के लिये परंपरागत तेज गेंदबाजी और नयी तकनीक का तालमेल बनान होगा जो कि हो रहा है.’’ उन्होंने कहा कि विविधता शुरू ही से खेल का अंग थी लेकिन आजकल के गेंदबाज उन पर ज्यादा निर्भर हैं.

निधि अग्रवाल के साथ रिश्तों पर खुलकर बोले राहुल, कहा ”प्रिंसेस की तरह रखूंगा”

वॉल्श ने कहा, ‘‘हमारे पास धीमी गेंद, तेज यार्कर, धीमे यॉर्कर पहले भी थे. अब तकनीक इसे दिखा रही है. विविधता के बावजूद निरंतरता और सटीक गेंदबाजी जरूरी है.’’ मौजूदा गेंदबाजों में वह इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं किसी का नाम नहीं लूंगा लेकिन इंग्लैंड के तेज गेंदबाज बेहतरीन है. क्रिकेट के लिये यह अच्छा है.’’