युवा गोल्फर अर्जुन भाटी (Arjun Bhati) ने विश्व जूनियर गोल्फ चैंपियनशिप के तीन खिताब और एक राष्ट्रीय खिताब सहित अपनी सभी 102 ट्रॉफियों बेचकर कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई के लिए 4.30 लाख रुपये जुटाए। Also Read - Delhi-Haryana Border: दिल्ली-हरियाणा सीमा पार करने के लिए अब ट्रेवल पास की नहीं होगी जरूरत

यूएस किड्स जूनियर विश्व चैंपियनशिप में 2016 और 2018 के विजेता और पिछले साल एफसीजी कॉलवे जूनियर विश्व चैंपियनशिप जीतने वाले इस 15 वर्षीय गोल्फर ने इस धनराशि को आपात स्थिति प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष (पीएम केयर्स फंड) में दान किया। Also Read - कोरोना के खिलाफ जंग में हम ही जीतेंगे, दुनिया को हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों से काफी उम्मीद: पीएम नरेंद्र मोदी

अर्जुन ने कहा कि उन्होंने धनराशि जुटाने के लिए अपनी ट्रॉफियां अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के परिजनों में बेच दी।
उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘पिछले आठ साल में देश विदेश में जीतकर कमायी गयी 102 ट्राफियां मैंने देश में इस संकट के समय 102 लोगों को दे दी। उनसे कुल 4,30,000 रुपये की धनराशि मिली जो आज मैंने पीएम केयर्स फंड में देश की मदद के लिये दिये।’’ Also Read - Coronavirus in Indore Update: मध्य प्रदेश में कोरोना का गढ़ बना इंदौर, 135 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 3500 के पार

अर्जुन ने कहा, ‘‘मेरे योगदान के बारे में सुनने के बाद दादी पहले रोयी और फिर बोली ‘तू सच में अर्जुन है। आज देश के लोग बचने चाहिए, ट्रॉफियां तो फिर आ जाएंगी।’’

इस तरह से ये युवा गोल्फर भी उन भारतीय खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो गया है जिन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अपना योगदान दिया।