कोरोनावायरस वैश्विक महामारी से इस समय दुनिया में लगभग सभी खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई हैं. कोविड-19 से भारत में अब तक 29 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि विश्व भर में यह आंकड़ा 30 हजार को पार कर गया है. दुनिया में लगभग 7 हजार से अधिक लोग संक्रमित हैं. ऐसे में खिलाड़ी भी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. वे प्रैक्टिस नहीं कर पा रहे हैं. भारत में इस वायरस की गंभीरता को देखते हुए 21 दिन का लॉकडाउन है. Also Read - उत्तराखंड कैबिनेट को क्‍वारंटाइन में भेजने की जरूरत नहीं: स्वास्थ्य सचिव

कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए युवा निशानेबाज मनु भाकर ने डोनेट किए एक लाख रुपये Also Read - Coronavirus Lockdown: स्कूलों को फिर से खोलने की योजना पर अभिभावकों की बढ़ी चिंता, जानें क्या सरकार प्लानिंग

इंटरनेशनल टेबल टेनिस महासंघ (आईटीटीएफ) ने भी कोविड-19 महामारी के कारण 30 जून तक उन सभी प्रतियोगिताओं को निलंबित कर दिया जिसमें अंतरराष्ट्रीय यात्रा की जरूरत थी. Also Read - Coronavirus in Indore Update: मध्य प्रदेश में कोरोना का गढ़ बना इंदौर, 135 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 3500 के पार

आईटीटीएफ की कार्यकारी समिति ने कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर रविवार को अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस कार्यक्रम पर पड़ने वाले प्रभावों की चर्चा की.

आईटीटीएफ ने कहा, ‘कोविड-19 महामारी और टोक्यो 2020 ओलंपिक एवं पैरालंपिक खेलों के स्थगन के कारण जारी अनिश्चितता को देखते हुए आईटीटीएफ की कार्यकारी समिति इस निर्णय पर पहुंची है कि 30 जून तक जिन टूर्नामेंटों में अंतरराष्ट्रीय यात्रा की जरूरत है उसे निलंबित किया जाता है.’

COVID-19: अक्षय कुमार के 25 करोड़ रुपये दान दिए जाने पर हार्दिक पांड्या ने किया ये कमेेंट

आईटीटीएफ ने इसके साथ ही मार्च 2020 की रैंकिंग सूची को बंद (फ्रीज) करने का फैसला किया है. भारत में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या 1000 को पार कर गई है. भारत में लोगों से लगातार अपने घरों में रहने की अपील की जा रही है ताकि इस वायरस के चेन को तोड़ा जा सके.