कोविड-19 महामारी ने इस समय पूरी दुनिया को अपनी आगोश में ले रखा है. विश्व में इस वायरस से अब तक लगभग 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 4 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं. भारत में इससे संक्रमित मरीजों की संख्या 500 के पार कर गई है जबकि इससे 10 लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव का घरेलू मैदान मंगलवार को अस्थायी जेल में बदल गया. Also Read - यूपी में युवक की गोली मारकर हत्या, तबलीगी जमात पर लगाया था कोरोना वायरस फैलाने का आरोप

कोरोनावायरस की रोकथाम के मद्देनजर किए गए लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों को यहां हिरासत में रखा गया. चंडीगढ़ शहर में सेक्ट-16 स्थित ग्राउंड क्रिकेटर कपिल देव, युवराज सिंह और हरभजन सिंह का घरेलू मैदान है. Also Read - कोरोना से जंग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी जलाए दीये, तस्वीरें शेयर कर संस्कृत में लिखा ये संदेश

COVID-19: टीम इंडिया के ओपनर मयंक अग्रवाल बोले, LOCKDOWN में ऐसे बिताएं घर पर समय Also Read - कोरोना के खिलाफ जंग में एकजुट पूरा देश, पीएम की मां से लेकर कई हस्तियों ने घर के बाहर जलाए दीये, देखें तस्वीरें

एक सरकारी अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, ‘हमने सेक्ट-16 स्थित क्रिकेट स्टेडियम और मनीमाजरा में खेल परिसर को अस्थायी जेल में तब्दील कर दिया है और कर्फ्यू के आदेशों का उल्लंघन करने वालों को यहां रखा जाएगा.’

20 हजार से अधिक लोगों की क्षमता वाला यह क्रिकेट स्टेडियम 15.32 एकड़ में फैला है. पुलिस ने कहा कि कर्फ्यू के मानदंड़ों का उल्लंघन करने पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188 के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी.

COVID-19 महामारी के चलते Tokyo Olympic 2020 एक साल के लिए स्थगित

पंजाब में कोविड-19 संक्रमण के सात मामले सामने आए हैं. ऐसे में पंजाब के गवर्नर व प्रशासक चंडीगढ़ वी. पी. सिंह बदनौर ने सोमवार आधी रात से शहर में एहतियात के तौर पर अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया था.

पुलिस महानिदेशक को उन्होंने बिना ढिलाई के कर्फ्यू लागू करने का निर्देश दिया है.