भारत सरकार द्वारा खाली स्‍टेडियम में खेल गतिविधियों को शुरू करने की इजाजत दिए जाने के बाद अब आईपीएल 2020 (IPL 2020) का आयोजन संभव होने की चर्चाएं तेज हो गई हैं. हालांकि बीसीसीआई के कोषाध्‍यक्ष अरुण धुमल ने यह साफ कर दिया है कि क्रिकेट फिर से शुरू होने में सबसे बड़ी बाधा अभी भी यात्रा प्रतिबंध है.Also Read - Corona Vaccine Booster Dose: ऐसे कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन, जानिए कौन लगवा सकता है यह डोज

ईएसपीएन क्रिकइन्‍फो से बातचीत के दौरान अरुण धुमल ने कहा, “क्रिकेट गतिविधि फिर से शुरू करने के लिए यात्रा पर लगी रोक को हटाना जरूरी होगा. लॉकडाउन 4.0 के नियमों के अनुसार 31 मई तक हवाई यात्रा पर पूरी तरह से रोक रहेगी. अपने अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए स्किल आधारित कोई ट्रेनिंग कैंप शुरू करने से पहले बीसीसीआई थोड़ा इंतजार करना चाहेगा.” Also Read - AUS vs NZ: फैंस को लगा बड़ा झटका, सीमित ओवरों की सीरीज अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

बताया गया कि क्रिकेटर्स और सपार्ट स्‍टाफ की सुरक्षा बीसीसीआई की प्राथमिकता है. “हम कोई ऐसा निर्णय जल्‍दबाजी में आकर नहीं करने वाले हैं जिसके चलते कोरोनावायरस को जड़ से खत्‍म करने में भारत के प्रयासों को नुकसान पहुंचे.” Also Read - Coronavirus in India: पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2.82 लाख नए केस, कल से 18 फीसदी ज्यादा

यह पूछे जाने पर कि क्‍या बीसीसीआई अब आईपीएल 2020 (IPL 2020) की संभावना को तलाशने में जुट गया है. धुमल ने कहा कि इसपर कोई प्रतिक्रिया देना बहुत जल्‍दबाजी होगा. ऐसा तभी संभव है जब क्रिकेट कैलेंडर फिर से खुले और दुनिया भर में लगा ट्रेवल बैन खुल सके.

धुमल ने श्रीलंका क्रिकेट द्वारा अपने देश में आईपीएल 2020 (IPL 2020) कराए जाने का प्रस्‍ताव मिलने की बात भी स्‍वीकारी. हालांकि उन्‍होंने साथ ही यह भी कहा कि भारत सरकार से यात्रा की इजाजत नहीं मिलने तक इसपर विचार करना दूर की बात ही है.