इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें एडिशन का आयोजन 29 मार्च से यानी आज (रविवार) से होना था लेकिन कोविड-19 महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इसे 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया. भारत सरकार ने देश में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया है. सभी खिलाड़ी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. कोविड-19 के कारण दुनिया भर में प्रतियोगिताएं रद्द या स्थगित हो गई हैं जिसमें आईपीएल को भी स्थगित कर दिया गया. जिससे अब रात को आठ बजे आईपीएल मैच नहीं हो रहा है और वानखेडे की पिच पर महेंद्र सिंह धोनी या रोहित शर्मा दिखाई नहीं दे रहे. लॉकडाउन की वजह से कुछ नेटफ्लिक्स पर तो कुछ डीडी नेशनल पर कार्यक्रम देख रहे हैं. Also Read - CSK vs RR Dream11 Team Prediction IPL 2021: चेन्नई vs राजस्थान, आज इन्हें बनाए कप्तान और उपकप्तान

‘ट्रेसर बुलेट’ की तरह घूम रही COVID-19 महामारी से बचने के लिए घरों में रहें: रवि शास्त्री Also Read - दिल्ली में कोरोना के मामले 25 हजार के पार, 161 और मरीजों की मौत; 29.74 प्रतिशत हुई संक्रमण की दर

धोनी के लिए आईपीएल साढ़े आठ महीने बाद वापसी टूर्नामेंट होता. वह चेन्नई सुपरकिंग्स टीम की अगुआई करते जिसके कुछ खिलाड़ियों के लिये यह अंतिम वर्ष होता. सुरेश रैना, हरभजन सिंह और शेन वाटसन के अगले साल पीली जर्सी में खेलने की उम्मीद नहीं है. Also Read - VIDEO | क्या हवा के माध्यम से भी आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है कोरोना वायरस?

धोनी के लिए यह फॉर्म में वापसी कर दुनिया को दिखाने का मौका होता कि रिषभ पंत और लोकेश राहुल को वैश्विक टूर्नामेंट के लिए अंतिम बार इंतजार करने के लिए क्यों कहा जा सकता है.

अगर आईपीएल नहीं होता है और विश्व टी20 इस साल हालात सामन्य होने की स्थिति में आयोजित किया जा सकता है तो क्या धोनी फिर से भारतीय टीम के लिए खेलते दिखेंगे? उनके प्रशसंकों को हालांकि यह बात रास नहीं आएगी लेकिन सुनील गावस्कर, वीरेंद्र सहवाग और कपिल देव ऐसा महसूस नहीं करते.

COVID-19: कोहली एंड कंपनी का ऑस्ट्रेलिया दौरा अधर में, ये है वजह

आईपीएल 2020 सीजन का पहला मैच मौजूदा चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच होना था. धोनी ने अपना अंतिम प्रतिस्पर्धी मैच पिछले साल वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल मुकाबला न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। इसके बाद से माही ब्रेक के तहत टीम इंडिया से बाहर हैं. भारत में 1000 से ज्यादा लोग इसके संक्रमण की चपेट में आए हैं जिसमें अब तब 25 की मौत हो चुकी है.