टीम इंडिया के सीनियर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने लोगों को कोरोना वायरस से बचने के लिए घरों में रहने के लिए प्रेरित करने के लिए अपना ट्विटर यूजन नेम ‘रविचंद्रन अश्विन’ से बदलकर ‘लेट्स स्टे इंडोर इंडिया’ कर दिया है। जिसका मतलब है कि ‘चलो भारत अंदर रहते हैं’। Also Read - Coronavirus: ट्रेनों के 20,000 डिब्बों को अलग वार्ड में बदलने की तैयारी की जाए: रेलवे बोर्ड

इस भारतीय खिलाड़ी ने ये भी कहा कि अगले दो हफ्ते काफी अहम होने वाले हैं। अश्विन ने ट्वीट किया, “सभी तरह की जानकारी देख रहा हूं (विश्वासपात्र भी और घबराहट बढ़ाने वाली भी)। एक चीज निश्चित लगती है, अगले दो सप्ताह काफी अहम होने वाले हैं। भारत के हर शहर के लिए अगले दो सप्ताह खाली होने चाहिए क्योंकि अगर ये बीमारी फैलती है तो अफरा-तफरी मच जाएगी।” Also Read - कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय का बड़ा बयान, कहा- हम अभी लोकल ट्रांसमिशन के चरण में हैं

उन्होंने लिखा, “हमें यह बात याद रखनी चाहिए कि हमारी जनसंख्या काफी ज्यादा और बड़े हिस्से के पास जानकारी भी मौजूद नहीं है।”

अश्विन ने भी कई और भारतीय खिलाड़ियों के साथ मिलकर स्पोर्ट्स ब्रांड ‘नाइक’ के अभियान में हिस्सा लिया। जिसमें वो लोगों को कोरोना वायरस को बढ़ने से रोकने के लिए घरों में रहने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। अभियान का मोटो है ‘अगर आपने कभी लाखों लोगों के लिए खेलने का सपना देखा था तो ये आपका समय है। सुरक्षित खेलें, विश्व के लिए खेलें’।

अश्विन के साथ महिला टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर, भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर, शुभमन गिल समेत कई भारतीय खिलाड़ी इस अभियान का हिस्सा हैं।