आईपीएल 2020 (IPL 2020) के स्‍थगित होने के बाद से ही बीसीसीआई (BCCI) के अधिकारी इस वक्‍त यह सोच -सोच कर परेशान हैं कि आखिर इस मेगाटूर्नामेंट का आयोजन किस प्रकार होगा. कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते क्रिकेट संबंधित सभी गतिविधियां बंद हैं. आईपीएल के समय पर आयोजन नहीं होने से वेस्‍टइंडीज की कैरेबियाई प्रीमियर लीग (CPL) के आयोजकों के माथे पर भी पसीना आ गया है.Also Read - तीनों फॉर्मेट में आसानी से ढलने की क्षमता जसप्रीत बुमराह को बेहतरीन गेंदबाज बनाती है: एलेन डोनाल्ड

तय कार्यक्रम के अनुसार सीपीएल का आयोजन सितंबर में होना है. बीसीसीआई की कोशिश रहेगी कि उसे जहां भी विंडो मिले आईपीएल का आयोजन करे. सीपीएल के सीईओ पीट रसेल को डर है कि अगर उनके समय पर आईपीएल का आयोजन हुआ तो वो भारतीय लीग का सामना नहीं कर पाएंगे. Also Read - कप्तान विराट कोहली ने टीम इंडिया को विश्वास दिलाया कि हम कुछ खास कर सकते हैं: केएल राहुल

सीपीएल 19 अगस्त से 26 सितंबर के बीच होना है . हालांकि भारत को सितंबर में एशिया कप और अक्‍टूबर में टी20 विश्‍व कप खेलना है. बीसीसीआई की कोशिश रहेगी कि इन दोनों टूर्नामेंट में से एक भी आयोजन रद्द हुआ तो वो इस दौरान आईपीएल का आयोजन करा सकते हैं.
रसेल ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा ,‘‘हम आईपीएल से टकराव नहीं चाहते . मुझे पता है कि बीसीसीआई शक्तिशाली है लेकिन दूसरी लीग और खिलाड़ियों पर भी गौर करेगा.’’ Also Read - टीम इंडिया की कप्तानी का मौका मिलना सम्मान की बात होगी: जसप्रीत बुमराह

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे लगता है कि आईपीएल सारे कैरेबियाई खिलाड़ियों को अपने टूर्नामेंट में खेलते देखना चाहेगा. ऐसे में सीपीएल से टकराव का कोई औचित्य नहीं है क्योंकि उनके अधिकांश स्टार हमारे साथ खेलेंगे. मुझे नहीं लगता कि वे ऐसा करना चाहेंगे. वे अपनी विंडो तलाश सकते हैं .’’

वेस्टइंडीज में कोरोना वायरस के उतने मामले सामने नहीं आये हैं और सीपीएल के मेजबान छह देशों में मौतों के आंकड़े दोहरे अंक तक भी नहीं है .

रसेल ने कहा ,‘‘यह अच्छा रहा कि यहां लॉकडाउन जल्दी शुरू हो गया . यही वजह है कि यहां ब्रिटेन जैसे हालात नहीं है . हम हालांकि सीपीएल तभी खेलेंगे , जब हालात पूरी तरह सुरक्षित हों.’’