ऑस्ट्रेलिया में एशेज सीरीज की आज शुरुआत हो गई है. इस बीच चोट के कारण क्रिकेट से बाहर चल रहे इंग्लैड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) इस नामी सीरीज में न खेल पाने से दुखी हैं. इस युवा तेज गेंदबाज ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया का दौरा कुछ ऐसा है, जिसे एक तेज गेंदबाज कभी भी मिस करना नहीं चाहेगा. 26 वर्षीय जोफ्रा आर्चर चोट के कारण इस साल अगस्त से क्रिकेट से दूर हैं.Also Read - IPL Auction 2022: मेगा ऑक्शन में हिस्सा नहीं लेंगे बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर, क्रिस गेल

आर्चर ने चैनल सेवन के साथ बातचीत में कहा, ‘गेंद को सीम करते और थोड़ा उछाल लेते देखना कठिन था, क्योंकि यह वास्तव में एक तेज गेंदबाज का दौरा है, जिसे आप मिस नहीं करना चाहते हैं.’ Also Read - Ashes 2021-22: अंग्रेजों के खिलाफ 152 रन की पारी को ट्रेविस हेड ने बताया करियर बेस्‍ट, 'मैं यकीन नहीं कर पा रहा था'

आर्चर को यकीन नहीं था कि इंग्लैंड ने स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) और जेम्स एंडरसन (James Anderson) को एशेज के पहले टेस्ट से बाहर रखा गया है, लेकिन कप्तान जो रूट (Joe Root) के निर्णय लेने पर उन्होंने विश्वास दिखाया है. Also Read - Ashes में इंग्लैंड की हार के लिए आईपीएल को दोष देना बेवकूफी: Kevin Pietersen

गाबा में चल रहा टेस्ट, 2006 में बॉक्सिंग डे टेस्ट के बाद पहला एशेज टेस्ट है, जिसमें इंग्लैंड के प्लेइंग इलेवन में एंडरसन या ब्रॉड में से कोई भी शामिल नहीं है.

हालांकि एशेज सीरीज का पहला दिन इंग्लैंड के लिए निराशाजनक बीता. ब्रिसबेन के गाबा टेस्ट में खेले जा रहे पहले टेस्ट के पहले ही दिन इंग्लैंड की टीम दिन के पहले ही दो सत्र में सिर्फ 147 बनाकर ढेर हो गई.

चायकाल के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम इससे पहले बैटिंग पर उतरती कि इससे पहले ही मैदान पर बारिश ने दस्तक ने दी और फिर लंबे इंतजार के बाद भी खेल दोबारा शुरू नहीं हो पाया. ऐसे में अंपायरों ने पहले दिन का खेल समाप्त घोषित कर दिया.