बीसीसीआई ने लिमिटेड ओवर की कमान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) कौ सौंप दी है. हाल ही में विराट कोहली (Virat Kohli) ने टी20 वर्ल्ड कप के बाद टी20 फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया था. इसके बाद बोर्ड ने रोहित शर्मा को टी20 फॉर्मेट की कप्तानी सौंपने के साथ-सात वनडे टीम की कमान भी सौंप दी. बीसीसीआई अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने बताया कि बोर्ड ने विराट कोहली को यह सलाह दी थी कि वह टी20 फॉर्मेट की कप्तानी न छोड़ें लेकिन वह नहीं माने. इसके बाद बोर्ड नहीं चाहता था कि वह सीमित ओवर के दो फॉर्मेट में दो अलग-अलग कप्तान रखे.Also Read - IND vs SA: साउथ अफ्रीका के खिलाफ इन 7 बड़ी वजहों से हारा भारत, दूसरे मैच में नहीं दोहराएगा ये गलतियां

बीते बुधवार को सिलेक्शन कमेटी ने जब साउथ अफ्रीका दौरे लिए 18 सदस्यीय टीम की घोषणा की थी तो इस दौरान उसने रोहित शर्मा को वनडे और टी20 फॉर्मेट में कप्तान बनाने का ऐलान भी कर दिया. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने बताया कि रोहित को कप्तान बनाने का फैसला बीसीसीआई और चयन समिति ने मिलकर लिया है. Also Read - दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे हार के बाद गुस्साए फैंस ने वेंकटेश अय्यर के स्पॉट पर उठाए सवाल

टाइम्स नाऊ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘यह निर्णय बीसीसीआई और सिलेक्शन कमेटी ने मिलकर लिया. दरअसल बीसीसीआई ने विराट कोहली से यह निवेदन किया था कि वह टी20 फॉर्मेट की कप्तानी न छोड़े लेकिन वह नहीं माने. इसके बाद सिलेक्टर्स इसे अच्छा नहीं मान रहे थे कि वह सफेद बॉल के दो फॉर्मेट में दो अलग-अलग कप्तान रखें.’ Also Read - IND vs SA- खराब बल्लेबाजी के चलते पहला वनडे 31 रन से हारा भारत, सीरीज में 0-1 से पिछड़ा

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया, ‘तो, अब यह तय किया गया है कि विराट टेस्ट कप्तान बने रहेंगे और सफेद बॉल क्रिकेट में रोहित कमान संभालेंगे. मैंने बतौर बीसीसीआई अध्यक्ष विराट कोहली से बात की है और इसके अलावा सिलेक्शन कमेटी के अध्यक्ष चेतन शर्मा ने भी उनसे बात की है.’

इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘हमें रोहित शर्मा की नेतृत्व क्षमता पर पूरा भरोसा है और विराट कोहली टेस्ट कप्तान बने रहेंगे. बीसीसीआई के तौर पर हमें लगता है कि भारतीय क्रिकेट सुरक्षित हाथों में है. हम सफेद बॉल फॉर्मेट में बतौर कप्तान विराट कोहली की योगदान के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं.’