पुडुचेरी के एक वरिष्ठ खिलाड़ी सह कोच पर यौन उत्पीड़न का मामला सामने आने से क्रिकेट जगत में हड़कंप मच गया है. कोच थमराइकन्नन पर लड़की के साथ यौन उत्पीड़न के मामले में (पोक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस मामले में मेट्टुपालयम पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. एक 16 साल की क्रिकेटर (लड़की) की शिकायत के बाद मामला दर्ज किया गया था. पीड़ित क्रिकेट ने अपनी शिकायत में कहा कि कोच थमराइक्कनन ने कोचिंग देते समय उसके साथ दुर्व्यवहार किया.Also Read - UP से अगवा 16 साल की लड़की से युवक ने तेलंगाना में तीन महीने तक किया रेप, हुई प्रेग्‍नेंट

लड़की क्रिकेटर ने शिकायत में कहा कि कोच ने उसे यह कहते हुए कई संदेश भेजे कि वह उससे प्यार करता है और धमकी देता है कि अगर उसने उसके प्यार का जवाब नहीं दिया तो वह उसे कोचिंग नहीं देगा. उसने यह भी शिकायत में कहा कि कोच की इन हरकतों पर आपत्ति जताने के बाद भी कई बार उसके साथ अभ्रदता की गई. Also Read - PAK vs BAN, 2nd Test: एक ही मैच में Sajid Khan ने झटके 12 विकेट, Bangladesh के खिलाफ Pakistan का क्लीन स्वीप

इस मामले में पुडुचेरी क्रिकेट संघ (सीएपी) के चार पदाधिकारियों पर भी मामला दर्ज किया गया था क्योंकि लड़की क्रिकेटर ने शिकायत में कहा था कि उसने मामले को एसोसिएशन के सामने रखा था लेकिन इस पर पदाधिकारियों द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई. Also Read - Ruturaj Gaikwad ने ठोका शतक, BCCI के इस टूर्नामेंट से कर रहे हैं कप्‍तानी में डेब्‍यू

पुडुचेरी क्रिकेट संघ (सीएपी) के सचिव चंद्रू ने कहा कि लड़की क्रिकेटर ने किसी के खिलाफ यौन उत्पीड़न की कोई शिकायत नहीं दी. हालांकि उन्होंने कहा कि लड़की की मां ने शिकायत दर्ज कराई थी कि थमराइक्कनन ने उनकी बेटी के साथ दुर्व्यवहार किया था. उन्होंने यह भी कहा कि एसोसिएशन ने एक जांच की थी और थमराइक्कानन को एक साल के लिए निलंबित कर दिया था.

इस मामले में लड़की क्रिकेट की शिकायत पर चाइल्डलाइन ने मेट्टुपालयम पुलिस को केस से अवगत कराया था. जिस पर पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. (IANS)