ECB Denied Virat Kohli’s Suggestion of Delayed Start of 5th Test Match: भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच 5वां और आखिरी टेस्ट मैच कोविड के खतरे के चलते रद्द हो गया. ब्रिटिश मीडिया में इस टेस्ट मैच के रद्द होने का कारण भारतीय टीम को माना जा रहा है. लेकिन असल में इसका जिम्मेदार इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ही है. भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लिश क्रिकेट बोर्ड को यह प्रस्ताव दिया था कि सभी खिलाड़ियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस टेस्ट मैच को करीब दो से तीन दिन बाद शुरू किया जा सकता है.Also Read - टी20 विश्व कप से पहले हार्दिक पांड्या की फिटनेस बन सकती है भारतीय टीम मैनेजमेंट की समस्या

न्यूज वेबसाइट डीएनए की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने यह प्रस्ताव बीसीसीआई अधिकारियों के सामने भी रखा था, जिन्होंने ईसीबी से इस बाबत चर्चा की थी लेकिन ईसीबी अपने शेड्यूल को खिसकाने में टस से मस नहीं हुआ. उसने दो टूक कह दिया कि उसका शेड्यूल एक साल पहले से निर्धारित है और वह इसमें कोई बदलाव नहीं करेगा. Also Read - IPL: Virat Kohli के बाद अगले सीजन कौन होगा RCB का नया कप्तान, Dale Styen ने यह नाम लेकर किया हैरान

विराट कोहली ने भारतीय क्रिकेटरों की ओर से यह कहा था कि उनके स्टाफ के कुछ सदस्यों में कोरोना की पुष्टि हुई थी. इसके बाद बाकी के खिलाड़ियों और स्टाफ में कोरोना का संक्रमण दिखने में एक से दो दिन लग सकते हैं. अगर अगले दो दिन तक खिलाड़ियों की कोविड- 19 की जांच नेगेटिव आती है तो फिर भारतीय टीम दो से तीन दिन बाद यह मैच खेलने को तैयार है. Also Read - IPL 2021- RCB vs MI: बैंगलोर से हार पर बोले Rohit Sharma- खराब बल्लेबाजी ने हराया लेकिन हम वापसी करेंगे

इसके अलावा विराट कोहली ने यह भी कहा कि भारतीय दल में फिलहाल हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) समेत भारतीय दल के कई अहम सदस्य टीम के साथ नहीं हैं. वह कोरोना के कारण क्वॉरंटीन में हैं और ये सभी सदस्य टीम की रणनीति बनाने में अहम हैं. ऐसे में अगर ईसीबी इस टेस्ट मैच का शेड्यूल दो से तीन दिन आगे खिसकाने को तैयार है तो यह मैच खेला जा सकता है.