Moeen Ali Retires From Test Cricket Just Before Ashes: इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी मोईन अली (Moeen Ali) ने टेस्ट क्रिकेट से अपने संन्यास का ऐलान कर दिया है. ब्रिटिश मीडिया में रविवार से ही ये खबरें चल रही थीं कि इस ऑलराउंडर खिलाड़ी ने लाल गेंद के फॉर्मेट से संन्यास का मन बना लिया है और उन्होंने इसकी सूचना टीम के चीफ कोच क्रिस सिल्वरवुड (Chris Silverwood) और कप्तान जो रूट (Joe Root) को पहले ही दे दी थी. मोईन ने सीमित ओवरों के फॉर्मेट में अपने करियर को विस्तार देने के मकसद से यह कदम उठाया है. हालांकि अगले दो महीनों बाद ही एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) की शुरुआत होनी है और इतनी महत्वपूर्ण सीरीज से पहले मोईन का यह फैसला चौंकाने वाला है.Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ शर्मनाक हार के बाद कप्तान पोलार्ड ने कहा- इस तरह का प्रदर्शन अस्वीकार्य

सोमवार को अली ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया. 34 वर्षीय इस ऑफ स्पिन ऑलराउंडर ने साल 2014 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था. लाल गेंद के इस फॉर्मेट में उन्होंने कुल 64 टेस्ट मैच खेले, जिनमें उनके नाम 28.29 के औसत से 2914 रन हैं, जबकि उन्होंने 36.66 और औसत से 195 विकेट अपने नाम किए हैं. Also Read - CSK के लिए निभाई भूमिका मेरे लिए काफी अहम; इससे विश्व कप की तैयारी करने में मदद मिली: मोइन अली

आईसीसी द्वारा जारी विज्ञप्ति में मोईन ने अपने संन्यास का ऐलान करते हुए कहा, ‘मैं अभी 34 साल का हूं और मैं इतना लंबा क्रिकेट खेलना चाहता हूं, जितना मैं खेल सकूं और मैं अपनी क्रिकेट एन्जॉय करना चाहता हूं.’ Also Read - अगले साल भारत-इंग्लैंड के बीच खेला जाएगा कोविड की वजह रद्द हुआ मैनचेस्टर टेस्ट: ECB

इस हरफनमौला खिलाड़ी ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट शानदार है, जब आपका दिन अच्छा होता है तब यह किसी भी अन्य फॉर्मेट से कहीं बेहतर होता है.’ मोईन अली ने कहा कि वह और टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते थे लेकिन वर्क लोड बढ़ रहा था और ऐसे में उन्होंने अपने सीमित ओवरों की क्रिकेट पर फोकस बनाए रखने के लिए यह फैसला लिया.

मोईन हाल ही भारत के खिलाफ इंग्लैंड में संपन्न हुई टेस्ट सीरीज का हिस्सा थे. इससे पहले वह 2019 एशेज सीरीज में खेले थे और तब से टेस्ट क्रिकेट से बाहर थे लेकिन भारत के खिलाफ सीरीज में उन्हें वापसी का मौका मिला था.

खबरों के अनुसार लंबे समय तक परिवार से दूर रहने में वह सहज नहीं हैं. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के एशेज दौरे के लिए इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) से कोरोना प्रोटोकॉल साझा किए जाने से पहले ही मन बना लिया था. वह फिलहाल यूएई में आईपीएल खेल रहे हैं, जिसमें वह चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) का हिस्सा हैं.