Harbhajan Singh Set to Retire form all Forms of Cricket: टीम इंडिया के सीनियर ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने को तैयार हो गए हैं. एक समाचार एजेंसी के सूत्रों के हवाले से खबर है कि भज्जी अगले सप्ताह तक आईपीएल समेत क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान कर सकते हैं. दरअसल आईपीएल की एक बड़ी फ्रैंचाइजी ने भज्जी को सहयोगी स्टाफ के तौर पर अपनी टीम से जोड़ने का ऑफर दिया है. इसके बाद भज्जी ने क्रिकेट से संन्यास का मन बना लिया है.Also Read - BCCI की नई कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट होगी जारी, क्या Ajinkya Rahane और Cheteshwar Pujara बचा पाएंगे अपना ग्रेड

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) आईपीएल में सक्रिय रूप से खेल रहे थे. 41 साल के हो चुके भज्जी आईपीएल 2021 में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) का हिस्सा थे. इस सीजन के पहले सत्र में वह कुछ मैच खेले थे. हालांकि कोविड-19 के बाद जब यूएई में इस लीग का दूसरा सत्र खेला गया तो भज्जी को तब किसी भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला. माना जा रहा है कि हरभजन अगले हफ्ते प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से आधिकारिक रूप से संन्यास की घोषणा कर देंगे. Also Read - IND vs SA, दूसरे वनडे में मिडल ऑर्डर बैटिंग नहीं बॉलिंग में यह बदलाव करे टीम इंडिया: Dinesh Karthik का सुझाव

भज्जी (Harbhajan Singh) को आईपीएल की कई फ्रैंचाइजियों से जुड़ने के ऑफर मिले हैं. वह इनमें से किसी एक साथ अब दिखाई देंगे. आईपीएल के एक सूत्र ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘यह भूमिका सलाहकार, मार्गदर्शक या सलाहकार समूह का हिस्सा बनने की हो सकती है. लेकिन वह जिस फ्रैंचाइजी से बात कर रहे हैं वह उनके अनुभव का इस्तेमाल करना चाहती है. वह नीलामी में खिलाड़ियों को चुनने में भी फ्रैंचाइजी की मदद करने में सक्रिय भूमिका निभाएंगे.’ Also Read - 'Road Safety World Series' में नहीं खेलेंगे Sachin Tendulkar, आयोजकों ने नहीं किए हैं कई खिलाड़ियों के भुगतान

इस सीनियर फिरकी गेंदबाज (Harbhajan Singh) ने हमेशा खिलाड़ियों को निखारने में रुचि दिखाई है और एक दशक तक मुंबई इंडियन्स से जुड़े रहने के दौरान बाद के वर्षों में टीम के साथ उनकी यही भूमिका थी. भज्जी साल 2016 के बाद से भारत के लिए कोई मैच नहीं खेले हैं. पिछले साल केकेआर के साथ जुड़े रहने के दौरान हरभजन ने वरुण चक्रवर्ती (Varun Chakravarthy) का मार्गदर्शन करने में काफी समय बिताया.

आईपीएल के पिछले सत्र की खोज रहे वैंकटेश अय्यर (Venkatesh Iyer) ने इससे पहले खुलासा किया था कि हरभजन ने केकेआर की ओर से उनके एक भी मैच नहीं खेलने से पहले कुछ नेट सत्र के बाद कहा था कि वह लीग में सफल रहेंगे.

यहां तक कि पिछले सत्र में केकेआर के मुख्य कोच ब्रेंडन मैकुलम और कप्तान इयोन मोर्गन ने भी टीम चयन के मामलों में हरभजन की सलाह मानी थी. देश के चैंपियन गेंदबाज रहे हरभजन सिंह भारत की दो-दो वर्ल्ड कप विनिंग टीम का हिस्सा रहे हैं. उन्होंने 2007 टी20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप में भारत की जीत में अहम भूमिका अदा की.

अपने इंटरनेशनल करियर में इस स्टार ऑफ स्पिनर ने 103 टेस्ट, 236 वनडे और 28 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं. इस दौरान उन्होंने क्रमश: 417, 269 और 25 विकेट अपने नाम किए हैं. इस दौरान उन्होंने टेस्ट क्रिकेट 2 शतक भी अपने नाम किए.

(इनपुट: पीटीआई)