I Have Not Got Covid 19 Virus At My Book Launch Says Ravi Shastri: इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया (India Tour Of England) को अपना दौरा उस वक्त रद्द करना पड़ा, जब 4 टेस्ट मैच के बाद भारतीय दल में एक के बाद एक कोरोना वायरस (Coronavirus in Team India) के कई मामले सामने आने लगे. भारतीय टीम ने मैनचेस्ट टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया और फिर इसे रद्द घोषित कर गया. भारतीय दल में कोरोना के मामले सामने आने के बाद जानकार रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के बुक लॉन्च कार्यक्रम पर सवाल खड़े कर रहे थे.Also Read - T20 world cup 2021: पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने Jasprit Bumrah को सराहा, बताया 'सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक'

कई एक्सपर्ट्स का मानना था कि अगर टीम इंडिया के चीफ कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने बुक लॉन्च कार्यक्रम नहीं आयोजित किया होता तो फिर बायो बबल में शामिल टीम इंडिया में कोरोना वायरस के मामले सामने नहीं आते. रवि शास्त्री अब इस वायरस से उबर चुके हैं और उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि उन्हें इस वायरस का संक्रमण अपने बुक लॉन्च कार्यक्रम से नहीं हुआ है. यह संभवत: बुक लॉन्च से पहले लीड्स टेस्ट के दौरान हुआ होगा. Also Read - जब MS Dhoni से मिले क्रिस गेल; BCCI ने ट्वीट की 'यादगार पल' की तस्वीर

भारत के चौथे टेस्ट मैच के दौरान कोच रवि शास्त्री, बॉलिंग कोच भारत अरुण (Bharat Arun) और फील्डिंग कोच आर. श्रीधर (R. Sridhar) इस घातक कोविड- 19 से पॉजिटिव पाए गए. मैनचेस्टर टेस्ट से एक दिन पहले भारतीय टीम के जूनियर फीजियो योगेश परमार भी इसके संक्रमण में आ गए. इसके बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने खिलाड़ियों की ओर से बीसीसीआई को पत्र लिखकर यह जानकारी दी कि वे सभी सुरक्षा के लिहाज से 5वां और आखिरी टेस्ट खेलना नहीं चाहते हैं. Also Read - T20 World Cup 2021 के लिए भारतीय खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की जरूरत नहीं है: कोच शास्त्री

भारतीय बोर्ड ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) से चर्चा कर इस टेस्ट को रद्द करा दिया. इस वायरस से उबरने के बाद रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने ब्रिटेन के प्रमुख अखबार द गार्जियन को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्हें यह संक्रमण अपने बुक लॉन्च कार्यक्रम से नहीं हुआ. 59 वर्षीय शास्त्री ने कहा, ‘उस कार्यक्रम में 250 लोग मौजूद थे और किसी को भी इस इवेंट से यह संक्रमण नहीं हुआ. मुझे यह मेरी किताब लॉन्च से नहीं हुआ. यह कार्यक्रम 31 (अगस्त) को था और मुझे 3 सितंबर को पॉजिटिव पाया गया.’

चीफ कोच ने आगे कहा, ‘यह तीन दिन में नहीं हो सकता. मुझे लगता है कि मुझे यह लीड्स (जहां तीसरा टेस्ट खेला गया था.) से हुआ होगा. मुझे इस पर कोई पछतावा नहीं है क्योंकि उस कार्यक्रम में जो लोग उपस्थित थे वे सभी शानदार थे.’

उन्होंने कहा, ‘यह भारतीय टीम के खिलाड़ियों के लिए भी अच्छा मौका था कि वे कमरों में बंद रहने की बजाए बाहर जाकर अलग-अलग लोगों से मिलें. ओवल टेस्ट में हम भी उन सीढ़ियों का इस्तेमाल कर रहे थे, जिनका प्रयोग 5000 दर्शक कर रहे थे. तो बुक लॉन्च पर उंगली उठाने से पहले यह सब भी सोच लें.’