India vs New Zealand Test, 1st Match: भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है, जो काफी रोमांचक मोड़ पर आ चुका है. मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए भारतीय टीम 345 रन पर ऑलआउट गई, जिसके जवाब में न्यूजीलैंड महज 296 रन ही बना सकी. इसी के साथ टीम इंडिया ने पहली पारी के आधार पर 49 रन की बढ़त हासिल कर ली है. भारत को लीड दिलाने में स्पिनर अक्षर पटेल (Axar Patel) ने अहम भूमिका निभाई, जिन्होंने 34 ओवरों में 62 रन देकर 5 शिकार किए. इस दौरान अक्षर पटेल ने 6 मेडन ओवर भी निकाले.Also Read - IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ भारतीय टीम का ऐलान, Rohit Sharma संभालेंगे कमान, Ravi Bishnoi को 'गोल्डन चांस'

अक्षर पटेल ने 13 फरवरी 2021 को इंग्लैंड के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था, जिसमें उन्होंने 7 विकेट अपने नाम किए. पटेल ने पहली पारी में 2, जबकि अगली इनिंग में 5 शिकार किए. इसके बाद अगले टेस्ट में उन्होंने इंग्लैंड के विरुद्ध 11 शिकार किए. इस मैच में उन्होंने पहली पारी में 6, जबकि दूसरी इनिंग में 5 विकेट चटकाए. इसी टीम के खिलाफ पटेल ने अपने करियर के तीसरे टेस्ट में 9 शिकार किए. अक्षर पटेल 7 पारियों में अब तक 5 बार पांच या उससे अधिक शिकार कर चुके हैं. Also Read - Axar Patel Engagement: भारतीय क्रिकेटर Axar Patel ने रचाई गर्लफ्रेंड मेहा से सगाई, Pics सोशल मीडिया पर वायरल

टेस्ट क्रिकेट में अक्षर पटेल का प्रदर्शन: Also Read - IND vs SA, 3rd Test: DRS मामले पर टीम इंडिया की आलोचना, Virat Kohli बोले- बाहर बैठे लोग नहीं जानते कि मैदान पर क्या चल रहा है

7 विकेट बनाम इंग्लैंड (फरवरी 2021)

11 विकेट बनाम इंग्लैंड (फरवरी 2021)

9 विकेट बनाम इंग्लैंड (मार्च 2021)

5 विकेट* बनाम न्यूजीलैंड (नवंबर 2021)

मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत 345 रन पर ऑलआउट हो गया. टीम इंडिया की ओर से श्रेयस अय्यर ने सर्वाधिक 105 रन बनाए. इसके जवाब में न्यूजीलैंड पहली पारी में महज 296 रन पर ऑलआउट हो गया. इसी के साथ भारत ने 49 रन की लीड हासिल कर ली.

कानपुर में शानदार रहा भारत का रिकॉर्ड: भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप किया है. ऐसे में न्यूजीलैंड की कोशिश सम्मान बचाने की होगी. भारत के लिए कानपुर का यह स्टेडियम लकी रहा है. ग्रीन पार्क स्टेडियम में भारत ने 22 टेस्ट खेले हैं, जिसमें उसे 7 में जीत, जबकि 3 में हारर मिली. 12 मैच ड्रॉ रहे. टीम इंडिया को आखिरी बार साल 1983 में वेस्टइंडीज के हाथों इस स्टेडियम में हार झेलनी पड़ी थी.