IND vs SA, 3rd Test: तीसरे टेस्ट में Hanuma Vihari का खेलना मुश्किल, कोच Rahul Dravid ने दिए संकेत

IND vs SA 3rd Test, विराट कोहली की गैरमौजूदगी में हनुमा विहारी को दूसरे टेस्ट में मौका मिला, जिसकी दूसरी पारी में उन्होंने नाबाद 40 रन बनाए, लेकिन विहारी का निर्णायक टेस्ट में खेलना मुश्किल लग रहा है.

Published: January 7, 2022 5:46 PM IST

By India.com Hindi Sports Desk | Edited by Rajender Gusain

IND vs SA, 3rd Test: तीसरे टेस्ट में Hanuma Vihari का खेलना मुश्किल, कोच Rahul Dravid ने दिए संकेत
हनुमा विहारी ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में उपयोगी पारी खेली. (PC- Twitter)

South Africa vs India, 3rd Test: हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ जोहान्सबर्ग (Johannesburg) में खेले गए दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी में नाबाद 40 रन बनाए. भले ही टीम इंडिया ने 7 विकेट से मुकाबला गंवा दिया, लेकिन सभी ने हनुमा विहारी की तारीफ की. विहारी को विराट कोहली और श्रेयस अय्यर की गैरमौजूदगी में मौका मिला, जिसमें उन्होंने खुद को साबित किया.

Also Read:

अपनी धैर्यपूर्ण और ठोस बल्लेबाजी के कारण लोगों का ध्यान खींचने वाले विहारी ने अपने 13 टेस्ट मैचों में से सिर्फ एक मैच स्वदेश में खेला है. भले ही हनुमा विहारी को फैंस तीसरे टेस्ट में भी देखना चाहते हैं, लेकिन हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) सीनियर खिलाड़ियों का समर्थन करते हैं.

भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ सीनियर खिलाड़ियों चेतेश्वर पुजारा और अंजिक्य रहाणे को जितना संभव हो टीम में बनाए रखना चाहते हैं भले ही इस कारण से हनुमा विहारी और श्रेयस अय्यर जैसे बल्लेबाजों का अंतिम एकादश का नियमित सदस्य बनने के लिए इंतजार लंबा खिंच जाए.

द्रविड़ ने विहारी की प्रशंसा करते हुए कहा, ‘‘सबसे पहले मैं यह कहना चाहूंगा कि विहारी ने दोनों पारियों में अच्छा प्रदर्शन किया. पहली पारी में भाग्य ने उनका साथ नहीं दिया और वास्तव में उनका शानदार कैच लिया गया. दूसरी पारी में उसने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की और टीम का मनोबल बढ़ाया.’’

कोहली की अगले मैच में वापसी तय है. लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि उन्हें रहाणे या पुजारा पर प्राथमिकता दी जाएगी. राहुल द्रविड़ ने कहा, ‘‘अगर आप हमारे कुछ खिलाड़ियों पर गौर करो जो अब वरिष्ठ खिलाड़ी हैं या उन्हें वरिष्ठ खिलाड़ी माना जाता है, उन्हें भी इंतजार करना पड़ा था और उन्होंने अपने करियर के शुरू में ढेरों रन बनाए थे.’’

द्रविड़ ने कहा, ‘‘इसलिए ऐसा (इंतजार करना) होता है और यह खेल की प्रकृति है. विहारी ने इस मैच में जिस तरह से बल्लेबाजी की उससे उसका आत्मविश्वास बढ़ेगा और उससे टीम का भी मनोबल बढ़ना चाहिए.’’

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 7, 2022 5:46 PM IST