कोरोना वायरस का नया वेरिएंट पाए जाने के बाद दिसंबर में भारतीय टीम (India Tour of South Africa 2021-22) का  साउथ अफ्रीका का दौरा (IND vs SA Test) खटाई में पड़ता नजर आ रहा है. हालांकि साउथ अफ्रीका के विदेश मंत्रालय ने भारतीय टीम को आश्‍वासन दिया है कि उनके लिए बेहद कड़ा बायो-बबल (Bio-Bubble) बनाया जाएगा जिसमें इस वायरस के प्रवेश करने की गुंजाइश नहीं रहेगी. बता दें कि मौजूदा वक्‍त में इंडिया ए टीम साउथ अफ्रीका में ही मेजबान टीम के खिलाफ खेल रही है. भारतीय सीनियर टीम नौ दिसंबर को इस दौरे के लिए निकलेगी और 17 दिसंबर से तीन मैचों की टेस्‍ट सीरीज की शुरुआत करेगी. इसके बाद दोनों टीमों के बीच चार मैचों की टेस्‍ट सीरीज खेली जाएगी.Also Read - फिटनेस के लिए Hardik Pandya ने लिया 'चाइनीज योगा' का सहारा, तस्वीरें वायरल

साउथ अफ्रीका के विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारतीय टीम के स्वास्थ्य और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए दक्षिण अफ्रीका सभी जरूरी एहतियाती कदम उठाएगा. दक्षिण अफ्रीका और भारत ‘ए’ टीम के अलावा दोनों राष्ट्रीय टीम के लिए पूर्ण रूप से जैव सुरक्षित माहौल तैयार किया जाएगा.’’ Also Read - भारत के खिलाफ वेस्टइंडीज के एक्स फैक्टर होंगे कीमार रोच: डैरेन सैमी

मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारत ‘ए’ टीम के दौरे को जारी रखकर एकजुटता दिखाने का भारत का फैसला कई देशों के विपरीत है जिन्होंने अपनी सीमाओं को बंद करने और दक्षिण अफ्रीका से यात्रा को सीमित करने का फैसला किया है.’’ Also Read - कप्तान रोहित शर्मा के नेतृत्व में अच्छे हाथों में है भारतीय क्रिकेट: डैरेन सैमी

मंत्रालय ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका सरकार दौरा जारी रखने के लिए बीसीसीआई की सराहना करती है. भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट जोहान्‍सबर्ग में खेला जाएगा जबकि दूसरा टेस्ट सेंचुरियन में 26 दिसंबर से होगा. तीन मैच केपटाउन में तीन जनवरी से खेला जाएगा.

मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारतीय राष्ट्रीय टीम का दौरा दक्षिण अफ्रीका की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की 30वीं वर्षगांठ भी होगा.’’ रंगभेद नीतियों के कारण 1970 में आईसीसी द्वारा दक्षिण अफ्रीका टीम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से प्रतिबंधित करने के बाद भारत 1991 में देश की अंतरराष्ट्रीय टीम की मेजबानी करने वाला पहला देश बना था.

मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘वर्षगांठ का जश्न सम्मान समारोह के साथ मनाया जाएगा जो दो जनवरी 2022 को केपटाउन में होगा. यह समारोह दक्षिण अफ्रीका और भारत के मजबूत संबंधों को भी पेश करेगा जिसे दो भारतीय टीम के दौरों से एक बार फिर दर्शाया गया है.’’