India tour of South Africa, 2021-22: भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद साउथ अफ्रीकी दौरे पर जाना है, जिस पर काफी संशय है. 17 दिसंबर से 26 जनवरी तक तीन टेस्ट, तीन एकदिवसीय और चार टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों के दौरे के लिए मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के खत्म होने के बाद भारत को 8 या 9 दिसंबर को दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना होना था, लेकिन ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) की वजह से एक दौरे को एक हफ्ते के लिए स्थगित करने की खबरें भी सामने आ रही हैं.Also Read - SAW vs WIW: महिला वनडे मैच में Deandra Dottin का तूफान, 22 बाउंड्री की मदद से जड़े नाबाद 150 रन

हालांकि क्रिकेट साउथ अफ्रीका (CSA) के अध्यक्ष लॉसन नायडू (Lawson Naidoo) ने कहा है कि वह आगामी भारतीय टीम के दौरे के संभावित स्थगन होने को लेकर ‘अनजान’ हैं. लॉसन नायडू ने बताया कि सीएसए दौरे को अंजाम देने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के साथ काम कर रहा है और शेड्यूल में किसी भी बदलाव को लेकर दोनों बोर्ड विचार-विमर्श करेंगे. Also Read - Coronavirus in India: पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 2.35 लाख नए मामले, 3.35 लाख लोग हुए रिकवर

दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के उभरने के साथ, यह दौरा अब अनिश्चितत है क्योंकि टेस्ट मैचों की संख्या घटाई जा सकती है. भारत ‘ए’ की टीम इस समय दक्षिण अफ्रीका ‘ए’ के खिलाफ तीन चार दिवसीय मैचों में से दूसरा ब्लोमफोनटेन में खेल रही है. Also Read - फिटनेस के लिए Hardik Pandya ने लिया 'चाइनीज योगा' का सहारा, तस्वीरें वायरल

लॉसन नायडू (Lawson Naidoo) ने कहा, “हम दक्षिण अफ्रीका के लिए भारतीय क्रिकेट दौरे के किसी भी संभावित स्थगन से अनजान हैं. हम यह सुनिश्चित करने के लिए बीसीसीआई के साथ बातचीत कर रहे हैं कि भारत और साउथ अफ्रीका का दौरा आगे बढ़ाया जाए. शेड्यूल में किसी भी तरह के बदलाव पर दोनों बोर्ड चर्चा करेंगे. हम यह सुनिश्चित करने के लिए बीसीसीआई से लगातार संपर्क में हैं कि यह दौरा सभी खिलाड़ियों और अधिकारियों के लिए सुरक्षित माहौल को देखते हुए रखा जाए.”

सीएसए अध्यक्ष ने भारत दौरे के वित्तीय महत्व को रेखांकित किया. उन्होंने कहा, “भारत का किसी भी देश का दौरा मेजबान देश के लिए एक बड़ा वित्तीय बढ़ावा है. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई मैचों को आने वाले वर्षो के लिए पुनर्व्यवस्थित किया गया है.”