टी20 फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने के बाद जानकार मान रहे हैं कि विराट कोहली वनडे फॉर्मेट में भी टीम इंडिया की कप्तानी से इस्तीफा दे देंगे और वह सफेद बॉल के दोनों फॉर्मेट में बतौर खिलाड़ी उपलब्ध रहेंगे. हालांकि विराट ने टी20 की कप्तानी छोड़ने से पहले ही ऐलान कर दिया था, जबकि वनडे फॉर्मेट को लेकर उन्होंने कुछ नहीं कहा है. अब से कुछ ही दिन बाद जब चेतन शर्मा (Chetan Sharma) की अगुवाई वाली सिलेक्शन कमेटी साउथ अफ्रीका दौरे के लिए तीनों फॉर्मेट की टीम चुनेगी तो विराट की वनडे में कप्तानी की किस्मत का भी फैसला हो जाएगा.Also Read - IND vs WI: सीमित ओवरों की सीरीज से पहले Rohit Sharma फिट, Jasprit Bumrah को आराम

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के शीर्ष अधिकारियों का कहना है कि साउथ अफ्रीका में कोविड-19 (Covid 19) का नया स्वरूप पाए जाने के बावजूद अभी दौरा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होगा हालांकि वे स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए हैं. इससे एक दिन पहले बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने भी यही बात कही थी. Also Read - MS Dhoni का 'क्रिकेटिया दिमाग' सबसे तेज, Greg Chappell ने तारीफ में पढ़े कसीदे

वर्ष 2022 में अधिकतर टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाएंगे, जिसमें ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप भी शामिल है. वर्तमान कार्यक्रम के अनुसार अगले सात महीने में भारत को केवल नौ वनडे खेलने हैं, जिनमें से छह विदेश (तीन साउथ अफ्रीका और तीन इंग्लैंड) में खेले जाएंगे. Also Read - ICC ODI Rankings: विराट-रोहित टॉप-3 में बरकरार, डी कॉक-डुसेन ने लगाई बड़ी छलांग

बीसीसीआई में एक गुट कोहली को वनडे कप्तान बनाए रखने का पक्षधर है तो दूसरा गुट टी20 और वनडे दोनों की कप्तानी एक ही खिलाड़ी को सौंपने के पक्ष में है ताकि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को 2023 वनडे वर्ल्ड कप के लिए अच्छी तैयारी करने का मौका मिल सके.

माना जा रहा है कि इस मामले में आखिरी निर्णय बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह लेंगे. वैसे इसकी उम्मीद कम ही लग रही है कि फिलहास वनडे टीम से विराट कोहली से कप्तानी वापस ली जाएगी. क्योंकि जब विराट ने टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया था, तब भी बोर्ड अधिकारियों ने कहा था कि वह उनका ही फैसला था और वे भी इससे हैरान हैं. विराट ने वनडे और टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी के लिए खुद को उपलब्ध बताया है.

(इनपुट: भाषा)