India vs England 1st Test: इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया के गेंदबाजों ने शानदार शुरुआत की है. भारतीय टीम ने मेजबान टीम को पहली पारी में मात्र 183 रनों पर ढेर कर दिया. इस पारी में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) की भूमिका अहम रही, जिन्होंने इंग्लिश टीम के 3 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई. अपनी इस शानदार परफॉर्मेंस के बाद शमी ने कहा कि वह अपने कौशल पर भरोसा (Mohammed Shami Says I Always Believe On My Skill) रखते हैं. उन्हें इससे फर्क नहीं पड़ता कि वह कहां खेल रहे हैं. वह किसी भी परिस्थिति में अपने हुनर पर भरोसा बनाए रखते हैं.Also Read - Highlights IND vs PAK, T20 World Cup 2021: पाकिस्‍तान ने भारत को दी पहली बार टी20 विश्‍व कप में मात, 10 विकेट से हारा भारत

शमी के अलावा जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के 4 विकेट की बदौलत इंग्लैंड की टीम फिलहाल बैकफुट पर है. पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने बिना कोई विकेट गंवाए 21 रन जोड़ लिए हैं. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और केएल राहुल (KL Rahul) 9-9 रन बनाकर नाबाद थे. शमी ने दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, ‘मुझे नहीं पता कि मैं इंग्लैंड में विकेट क्यों हासिल नहीं कर पाता (हंसते हुए). लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया या कहीं और खेल रहा हूं, मैं अपने कौशल पर भरोसा करता हूं. Also Read - IND vs PAK, T20 World Cup 2021: Jasprit Bumrah के पास 'गोल्डन चांस', इतिहास रचने की दहलीज पर

उन्होंने कहा, ‘यहां तक कि जब मैं नेट्स पर गेंदबाजी कर रहा था. तब भी हालात को परखने का प्रयास कर रहा था और इसी के अनुसार योजना बनाई. इसके बाद मैच में इसे लागू करने का प्रयास किया.’ Also Read - India vs Pakistan T20 World Cup 2021: राशिद लतीफ बोले- पाकिस्‍तान चाहे कितना भी अच्‍छा खेल ले, भारतीय क्रिकेटर्स ने गलती नहीं की तो…

इस मैच में इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था. उनका यह दाव उलटा पड़ गया. शमी ने कहा, ‘टेस्ट मैच धैर्य का खेल है. भूल जाओ कि अतीत में क्या हुआ है. हमें वर्तमान स्थिति के बारे में सोचना होता है. हमें अधिक सोच-विचार नहीं करना होगा.’

शमी ने कहा, ‘मेरे नजरिए से टेस्ट मैचों में सामान्य सी बात है- आप जितना अधिक अपने बेसिक्स पर ध्यान दोगे उतना अधिक आपके सफल होने की संभावना होगी. अगर आप जरूरत से ज्यादा सोचोगे तो आप रन लुटाओगे और गैरजरूरी दबाव बनेगा.’