IPL 2021, Kolkata Knight Riders vs Royal Challengers Bangalore, 31st Match: कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने आईपीएल के दूसरे हाफ में शानदार शुरुआत की है. उसने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) को 9 विकेट से हरा दिया. कोलकाता ने बैगलोर को सिर्फ 92 रन पर समेट दिया इसके बाद उसने सिर्फ 10 ओवर में यह मैच अपन नाम कर लिया. इसी के साथ अंकतालिका में अब वह 5वें स्थान पर पहुंच गई है, जबकि इस मुकाबले से पहले वह 7वें स्थान पर थी. यह रहे उसकी जीत के 5 कारण…Also Read - IND vs PAK मैच में विराट कोहली-बाबर आजम मुकाबले पर होगी फैंस की नजरें; जानिए क्या कहते हैं आंकड़े

पावरप्ले में ही कस दिया शिकंजा
कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम यहां टॉस हार गई थी. बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने उसे पहले फील्डिंग करने को कहा. लेकिन प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) और लॉकी फर्ग्यूसन (Lockie Ferguson) ने पावरप्ले को कस कर रखा और विराट कोहली (5) और देवदत्त पडीक्कल (22) को सस्ते में पवेलियन भेज दिया. फर्ग्यूसन ने कुल 2 विकेट लिए. Also Read - CSK के लिए निभाई भूमिका मेरे लिए काफी अहम; इससे विश्व कप की तैयारी करने में मदद मिली: मोइन अली

आंद्रे रसल ने एक ही ओवर में दिया मसल
अभी RCB संभलने की कोशिश ही कर ही थी कि 9वां ओवर फेंकने आए आंद्रे रसेल ने बैंगलोर को दो झटके दे दिए. उन्होंने डेब्यू कर रहे श्रीकर भारत (16) और एबी डिविलियर्स को पवेलियन भेजकर उस पर ऐसा दबाव बनाया कि फिर बैंगलोर इससे उबर नहीं पाया. रसल ने 3 ओवर में 9 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए. Also Read - खिलाड़ियों को समय-समय पर बायो बबल से आराम दिए जाने की जरूरत है: विराट कोहली

वरुण चक्रवर्ती ने भी मचाया चक्रवात
RCB की टीम पहले ही मुश्किल में थी उसे इन मुश्किल हालात में मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती का सामना करना पड़ रहा था. वरुण ने एक के बाद एक 3 शिकार किए. उन्होंने 4 ओवर में 13 रन ही खर्च किए. इसकी बदौलत आरसीबी पूरी तरह बिखर गई.

छोटे लक्ष्य पर टूट के बरसा केकेआर
कोलकाता की टीम जानती थी कि यहां उसे अपना रनरेट सुधारने का मौका मिला है. अगर वह इस मैच को 10 ओवर में खत्म करती है तो उसका नेगेटिव रनरेट पॉजिटिव हो जाएगा. उसके ओपनरों ने उसे ऐसी ही शुरुआत दी कि केकेआर ने 93 रन का टारगेट 10 ओवर में अपने नाम करके टीम को 5वें स्थान पर पहुंचा दिया. अपना डेब्यू कर रहे वेंकटेश अय्यर ने 27 बॉल में नाबाद 41 रन बनाए, जिसमें 7 चौके और 1 छक्का जमाया.

शुबमन गिल ने ठोके 48 रन
शुबमन गिल अय्यर के साथ मिलकर टीम को वैसी ही शुरुआत दी, जिसकी टीम को दरकार थी. गिल ने 34 गेंदों में 6 चौके और 1 छक्का जमाते हुए 48 रन बनाए. हालांकि वह चहल की गेंद पर सिराज को कैच देकर आउट हो गए. लेकिन जब वह आउट हुए तब केकेआर जीत से सिर्फ 11 रन दूर था, जिसे उसने आसानी से हासिल कर लिया. गिल को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया.