Irafan Pathan Laud Kartik Tyagi For His Briliant Bowling Against PBKS: पंजाब किंग्स (PBKS) का खेमा अब तक हैरान है कि वह आईपीएल के दूसरे हाफ में राजस्थान रॉयल्स (RR) के खिलाफ आखिरी ओवर में 4 रन नहीं बना पाया. राजस्थान रॉयल्स के युवा तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी (Kartik Tyagi) ने उसे ऐसा करने से रोक दिया. इस बेहतरीन बॉलिंग प्रदर्शन के बाद 20 वर्षीय इस युवा तेज गेंदबाज की जमकर तारीफ हो रही है. पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज इरफान पठान (Irfan Pathan) ने कहा कि यह किसी के लिए भी आसान नहीं है. लेकिन कार्तिन ने ऐसा कर के दिखाया है और यहां से उनके करियर का ग्राफ अब ऊपर ही जाना चाहिए.Also Read - T20 World Cup 2021, IND vs AUS Live Streaming: मोबाइल पर इस तरह देखें लाइव मैच

मंगलवार को खेले गए इस मैच में पंजाब की टीम 186 रनों का पीछा कर रही थी. वह मैच में जीत की दहलीज पर पहुंच चुकी थी और अंतिम 6 गेंदों में उसे 4 रन की दरकार थी, जबकि 8 विकेट उसके हाथ में थे. लेकिन इसके बावजूद वह ऐसा करने से चूक गई. आखिरी ओवर में पंजाब की टीम सिर्फ 1 ही रन बना पाई. कार्तिक त्यागी ने इस दौरान निकोलस पूरन (Nicholas Pooran) और दीपक हूडा (Deepak Hooda) को अपना शिकार बनाया. Also Read - टी20 विश्व कप करियर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी: हार्दिक पांड्या

कार्तिक का यह दमदार बॉलिंग प्रदर्शन देखकर भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान (Irfan Pathan) भी प्रभावित हैं. उन्होंने कहा कि यह काम बड़े बडे़ माहिर गेंदबाजों के लिए भी आसान नहीं है और कार्तिक त्यागी तो अभी बहुत युवा हैं, जिनके सर पर भारतीय टीम की कैप भी नहीं है. ऐसे में यह काबिलेतारीफ है और यहां से उनके करियर का ग्राफ अब तेजी से ऊपर ही चढ़ना चाहिए. Also Read - VIDEO: CSK को चौथा खिताब जिता घर लौटे रुतुराज गायकवाड़; मां ने कुछ इस अंदाज में किया स्वागत

इरफान पठान इस मैच के दौरान स्टार स्पोर्ट्स पर हिंदी कॉमेंट्री कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने मैच खत्म होने के बाद खेल की समीक्षा करते हुए ये बात कही. उन्होंने कहा, ‘कार्तिक त्यागी युवा हैं. वह कोई अनुभवी खिलाड़ी नहीं हैं इसके बावजूद उन्होंने ऐसी शानदार बॉलिंग की.’

पठान ने कहा, ‘कार्तिक के सामने बढ़िया बल्लेबाज थे. वह कोई नंबर 9, 10 या 11 के क्रम पर खेलने वालों को बॉलिंग नहीं कर रहे थे. उनके खिलाफ विशुद्ध बल्लेबाज थे. लेकिन उन्होंने अच्छी जगह पर बॉलिंग की. इससे उनका मनोबल बढे़गा. यहां से उनका करियर ऊपर ही चढ़ना चाहिए. उन्हें यहां से पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं है.’