Indian Premier League 2021, Royal Challengers Bangalore vs Chennai Super Kings: चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 24 सितंबर को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 6 विकेट से जीत के साथ अंकतालिका में टॉप पर पहुंच गई है. गेंदबाजी सलाहकार एरिक सिमंस (Eric Simons) अपनी टीम से बेहद खुश हैं. सिमंस के मुताबिक महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की अगुआई वाली टीम ने 2020 सत्र में लचर प्रदर्शन के बाद सबक सीख लिया है. 2020 सत्र भी यूएई में ही हुआ था. उन्होंने कि उनके बल्लेबाजों ने यूएई की धीमी पिचों पर पिछली बार की तुलना में अधिक आक्रामक बल्लेबाजी करने की योजना बनाई और अपने पहले दो मैचों में उन्होंने ऐसा ही किया.Also Read - IPL 2022 मेगा ऑक्शन से पहले 4 खिलाड़ियों को रीटेन करने की इजाजत दे सकती है BCCI

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ जीत के बाद प्रेस कांफ्रेंस में सिमंस ने कहा, ‘‘हमने पहले ही बात की है कि आईपीएल (2021) के पहले चरण में भारत में हमारे लिए क्या चीजें सही रही. हमने बात की कि यहां (पिछली बार संयुक्त अरब अमीरात में) हमने क्या गलत किया था. आपको पता है कि अधिकतर समय खराब प्रदर्शन सीखने के लिए सर्वश्रेष्ठ चीज होती है.’’ Also Read - VIDEO: CSK को चौथा खिताब जिता घर लौटे रुतुराज गायकवाड़; मां ने कुछ इस अंदाज में किया स्वागत

भारत के पूर्व गेंदबाजी कोच सिमंस ने कहा कि पिछला आईपीएल सीखने के लिहाज से उनके लिए अच्छा अनुभव रहा. उन्होंने कहा, ‘‘पिछले आईपीएल में हमारे लिए क्या गलत रहा, यह हमारे लिए बहुत बड़ा सबक था. लेकिन मुझे लगता है कि सबसे बड़ा अंतर हमारी बल्लेबाजी की आक्रामकता है, हम इस बार पिछली बार की तुलना में काफी अधिक आक्रामकता के साथ खेल रहे हैं.’’ Also Read - IPL 2021: घर पहुंचने पर Ruturaj Gaikwad का जोरदार स्वागत, मां ने उतारी आरती

सिमंस ने मैच में 24 रन देकर तीन विकेट चटकाने वाले ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो की तारीफ करते हुए कहा कि टीम उनके प्रदर्शन से ‘बेहद खुश’ है और वेस्टइंडीज के खिलाड़ी ने पिछले कुछ मैचों में काफी अच्छी गेंदबाजी की है. कोच ने दो विकेट चटकाने वाले ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर की भी सराहना की.

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल ने कहा कि टीम 170-180 रन का स्कोर खड़ा करने की सोच रही थी. पडिक्कल ने 70 रन बनाए. उन्होंने कहा, ‘‘बेशक जब इस तरह की शुरुआत होती है तो आप कम से कम 170-180 रन बनाने के बारे में सोचते हो. हमने इस तरह का कोई लक्ष्य नहीं बनाया था क्योंकि स्कोर इससे अधिक भी बन सकता था. हम गेंद को पूर्व निर्धारित योजना से नहीं खेलना चाहते थे और अधिक से अधिक रन बनाना चाहते थे, दुर्भाग्य से आज पारी के अंत में चीजें हमारे पक्ष में नहीं रही लेकिन उम्मीद करते हैं कि अगले मैच में हम ऐसा कर पाएंगे.’’