एक ओर पाकिस्तान ने टी20 विश्व कप के लिए टीम का ऐलान किया, वहीं दूसरी तरफ हेड कोच मिस्बाह उल हक (Misbah-ul-Haq) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. इस अहम वक्त पर मिस्बाह उल हक द्वारा टीम का साथ छोड़ देना सभी को हैरान कर गया है. हालांकि इसके पीछे की वजह भी सामने आ रही है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के सूत्र ने दावा किया है कि विश्व कप टीम के चयन को लेकर मतभेद और न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज से ब्रेक दिए जाने के कारण मिस्बाह उल हक ने यह कदम उठाया.Also Read - Virender Sehwag बोले- गेंदबाजों के कप्तान रहे हैं MS Dhoni, मेंटॉर बनने से बुमराह & कंपनी को होगा फायदा

पीसीबी ने बताया था कि मुख्य कोच मिस्बाह उल हक और गेंदबाजी कोच वकार यूनिस ने जैव-सुरक्षित माहौल (बायो-बबल) के कारण परिवार से लंबे समय तक दूर रहने की वजह से अपने-अपने पद से इस्तीफा दे दिया, लेकिन विश्वसनीय सूत्र ने दावा किया कि वेस्टइंडीज में 10-दिवसीय पृथकवास पूरा करने के बाद रविवार को लाहौर पहुंचे मिस्बाह पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ (मुख्य कार्यकारी अधिकारी) वसीम खान से मिलने गए और यह देखकर हैरान रह गए कि उनकी सलाह के बिना ही आगामी घरेलू शृंखला और टी20 विश्व कप के लिए टीम का चयन कर लिया गया. Also Read - MS Dhoni के मेंटोर बनने से गेंदबाजी यूनिट को काफी मदद मिलेगी: वीरेंद्र सहवाग

सूत्र ने कहा, ‘‘मिस्बाह को दूसरा झटका तब लगा जब वसीम ने उनसे कहा कि उन्हें न्यूजीलैंड श्रृंखला से ब्रेक लेना चाहिए, जिससे पूर्व कप्तान ने साफ इनकार कर दिया. मिस्बाह ने स्पष्ट किया कि उन्हें आराम की जरूरत नहीं है और वह विश्व कप की तैयारी के लिए न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू शृंखला को बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं. लेकिन फिर उन्हें बताया गया कि उच्च अधिकारियों का आदेश है कि उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला से विश्राम दिया जाए.’’ Also Read - कोहली के कप्तानी छोड़ने से फैसले से हैरान हुए पठान; कहा- अगर भारत टी20 विश्व कप जीत गया तो क्या होगा?

सूत्र के अनुसार, मिस्बाह को टीम में कम से कम दो खिलाड़ियों, विशेष रूप से आजम खान के चयन पर आपत्ति थी. उन्होंने वसीम खान को यह स्पष्ट कर दिया कि वे विश्व कप टीम में नहीं हो सकते हैं. सूत्र ने कहा, ‘‘जब मिस्बाह और पीसीबी सीईओ किसी सहमति पर पहुंचने में नाकाम रहे, तो मिस्बाह ने स्पष्ट कर दिया कि बेहतर होगा कि वह मुख्य कोच के पद से हट जाए.’’

पूर्व कप्तान सरफराज अहमद की जगह आजम खान को टी20 टीम में रिजर्व विकेटकीपर और बल्लेबाज के रूप में चुने जाने से पाकिस्तान क्रिकेट जगत में कई लोगों को झटका लगा है. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोइन खान के बड़े बेटे आजम ने इंग्लैंड में पाकिस्तान के लिए पदार्पण किया था. पीसीबी के मुताबिक आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप के लिए टीम प्रबंधन की नियुक्ति सही समय पर की जाएगी.

इस्तीफा देने के बाद खुद मिस्बाह उल हक ने कही ये बात: मिस्बाह ने यहां जारी बयान में कहा, ‘‘मुझे अपने परिवार से दूर जैव-सुरक्षित माहौल (बायो-बबल) में काफी समय बिताना होगा. इसे देखते हुए मैंने इस भूमिका से हटने का फैसला किया है.’’

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रहे मिस्बाह ने कहा, ‘‘वेस्टइंडीज श्रृंखला के बाद जमैका में पृथकवास के दौरान मुझे पिछले 24 महीनों के साथ-साथ आगे के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के कार्यक्रम के बारे में सोचना का मौका मिला. मैंने इस भूमिका से हटने का फैसला किया क्योंकि मुझे अपने परिवार से लंबे समय तक दूर रहना पड़ता और वह भी जैव-सुरक्षित वातावरण में. मैं समझता हूं कि टीम से हटने का यह सही समय नहीं हो सकता है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं आने वाली चुनौतियों के लिए सही सोच रखने में सक्षम रहूंगा.’’