India vs England Test Series: युवा ओपनिंग बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Kumar) और सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) के लिए यह खबर किसी झटके से कम नहीं होगी. क्योंकि श्रीलंका दौरे पर शानदार खेल दिखाने के बाद इन दोनों खिलाड़ियों को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए चोटिल खिलाड़ियों की जगह रिप्लेसमेंट के तौर पर चुना गया था. लेकिन अब बीसीसीाई (BCCI) इन दोनों खिलाड़ियों के कोई अन्य विकल्प तलाश रहा है.Also Read - IND vs SA: रोहित शर्मा ने सूर्यकुमार यादव की फॉर्म को बताया- चिंताजनक और फिर खूब हंस दिए

दरअसल मंगलवार को श्रीलंका दौरे पर गई टीम इंडिया के ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) कोविड- 19 से संक्रमित पाए गए हैं. क्रुणाल के संपर्क में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और सू्र्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) समेत 8 अन्य खिलाड़ी आए थे, जिन्हें मेडिकल टीम ने सुरक्षा प्रोटोकॉल के तहत अगले 10 दिनों के लिए होटल के कमरों में क्वॉरंटीन रहने के लिए कहा है. Also Read - इस पूर्व क्रिकेटर ने बताया- भारत के वर्ल्ड कप मिशन में कौन होगा तुरुप का इक्का और कहां है समस्या

भारत और श्रीलंका के बीच जारी सीमित ओवरों की टी20 सीरीज गुरुवार 29 जुलाई को समाप्त हो रही है. ऐसे में भारतीय टीम के बाकी सदस्य शुक्रवार को भारत लौट सकते हैं. (Prithvi Shaw and Suryakumar Yadav Might be Out of England Tour) लेकिन क्रुणाल पांड्या और बाकी खिलाड़ी फिलहाल भारत नहीं लौट सकते हैं. बीसीसीआई ने जब शॉ और सूर्यकुमार को टेस्ट टीम में शामिल करने लिए इंग्लैंड भेजने का ऐलान किया था, तो उसकी योजना था कि वह श्रीलंका से इन दोनों खिलाड़ियों को इंग्लैंड रवाना करे. Also Read - एडम गिलक्रिस्‍ट टी20 टॉप-5: शीर्ष पर हार्दिक पांड्या, सूर्यकुमार यादव को जगह नहीं

इनसाइड स्पोर्ट्स में छपी एक रिपोर्ट की मानें तो बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले प्रकाशित इस रिपोर्ट में बताया गया है कि ब्रिटेन सरकार कोविड नियमों को लेकर काफी सख्त है. वहां भारत और श्रीलंका से आने वाले यात्रियों के लिए पहले से कड़े सुरक्षा प्रोटोकॉल लागू हैं.

बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि ये दोनों खिलाड़ी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं. ऐसे में इन्हें पहले 10 दिन यानी 6 अगस्त तक श्रीलंका में ही क्वॉरंटीन रहना होगा. इसके बाद अगर वह 7 अगस्त को इंग्लैंड रवाना हो भी जाते हैं तो भी अगले 10 दिन वे इंग्लैंड में क्वॉरंटीन में रहेंगे. ऐसे में 4 अगस्त से शुरू हो रही 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में वे दोनों कम से कम तीन टेस्ट मैच तो मिस कर ही देंगे.

ऐसे में बोर्ड विचार कर रहा है कि क्या वह कोई अन्य दो खिलाड़ियों को वहां भेज सकता है. हालांकि फिलहाल कुछ भी निश्चित नहीं है लेकिन अगले एक या दो दिन के भीतर इस पर फैसला ले लिया जाएगा.