T20 World Cup 2021: टी20 विश्‍व कप के सुपर-12 मैच शुरू होने से ठीक पहले इंग्‍लैंड की टीम के स्‍टार सलामी बल्‍लेबाज जेसन रॉय ने द हंड्रेड और टी10 लीग की वकालत की. रॉय का कहना है कि टेस्‍ट, वनडे और टी20 के साथ-साथ ये दो नए प्रारूप भी अस्तित्‍व में रह सकते हैं. 100 गेंद के द हंड्रेड टूर्नामेंट की शुरुआत इंग्‍लैंड क्रिकेट बोर्ड ने इसी साल की है. जबकि टी10 क्रिकेट बीते कई सालों से यूएई में खेला जा रहा है.Also Read - कोई एटीट्यूड नहीं... टीम से बाहर चल रहे Shikhar Dhawan ने शेयर किया Video

जेसन रॉय अबु धाबी टी10 लीग में दिल्ली बुल्स की ओर से खेलते हैं. उन्‍होंने कहा, ‘‘ये एक साथ अस्तित्व में हैं, क्या ऐसा नहीं है? टी10 में काफी प्रतिभावान खिलाड़ी खेल रहे हैं, द हंड्रेड में काफी प्रतिभावान खिलाड़ी हैं और वह भी कोविड के दौरान.’’ Also Read - ICC Test Championship Points Table: श्रीलंका ने जमाया शीर्ष पर कब्जा, तीसरे पायदान पर टीम इंडिया

रॉय तीन साल के बाद अबु धाबी टी10 में वापसी कर रहे हैं और उन्होंने कहा कि टी10 प्रारूप से उनके बड़े शॉट खेलने के कौशल में काफी फायदा होगा. Also Read - Sunil Narine ने केकेआर को बताया अपना दूसरा घर, दो बार खिताब जिता चुका है गेंदबाज

जेसन रॉय ने कहा, ‘‘आपके पास लाल गेंद का क्रिकेट है, एकदिवसीय क्रिकेट है और टी20 क्रिकेट है. ये आपके तीन खेल हैं जिन पर आपको काम करने की जरूरत है. लेकिन अब आप इसमें हंड्रेड और टी10 जोड़ दो, यह काफी मजेदार है, काफी मजेदार, विशेषकर मेरे जैसे खिलाड़ियों के लिए जो बाकी सभी प्रारूपों में खेले हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘अब इस प्रारूप में खेलकर नया कौशल सीखना शानदार है, यह तरोताजा करने वाला है, यह आपको युवा रखता है जो अच्छा है. मुझे लगता है कि ये सभी एक साथ अस्तित्व में रह सकते हैं.’’

यह पूछने पर कि क्या भविष्य में टी10 विश्व कप आयोजन हो सकता है तो उन्होंने कहा, ‘‘यह मजेदार होगा. यह शानदार विचार है लेकिन टेस्ट, एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय के बीच इसे अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम में जगह देना काफी मुश्किल होगा.’’