इस साल की शुरुआत में अपने टेस्ट करियर का शानदार आगाज करने वाले युवा स्पिन ऑलराउंडर वॉशिंग्टन सुंदर (Washington Sundar) अब भारतीय टेस्ट टीम में बतौर ओपनर अपना करियर आगे बढ़ाना चाहते हैं. सुंदर जूनियर क्रिकेट में टॉप ऑर्डर पर बल्लेबाजी करते रहे हैं. हालांकि खेल के सबसे छोटे फॉर्मेट में उन्होंने विशेषज्ञ स्पिनर के तौर पर अपनी पहचान बनाई लेकिन वह भारत के लिए निकट भविष्य में टेस्ट मैचों में पारी का आगाज करना चाहते हैं.Also Read - Vijay Hazare Trophy: Dinesh Karthik और Washington Sundar की वापसी

तमिलनाडु के 22 साल के इस खिलाड़ी ने भारत के लिए चार टेस्ट, एक एकदिवसीय और 31 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 32 विकेट लिए हैं. उन्होंने इसके साथ तीन अर्धशतकों की मदद से 312 रन भी बनाए हैं. Also Read - कीवी स्विंग गेंदबाजों को भारत के मुकाबले बेहतर खेलते हैं ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज: माइक हेसन

ब्रिटेन में जुलाई में अभ्यास मैच के दौरान हाथ की चोट ने वॉशिंगटन से आईपीएल के साथ-साथ संयुक्त अरब अमीरात में चल रहे टी20 वर्ल्ड कप में खेलने का मौका भी छीन लिया. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उन्हें विशुद्ध रूप से बल्लेबाज के रूप में वापसी करनी थी, लेकिन यह पता चला है कि पूरी फिटनेस हासिल नहीं करने के कारण उन्हें खेल शुरू करने के लिए जरूरी मंजूरी नहीं मिली है. Also Read - T20 World Cup 2022: 7 शहरों में होगा वर्ल्ड कप का आयोजन, मेलबर्न में इस दिन खेला जाएगा फाइनल मैच

बीसीसीआई की नीति के अनुसार, उन्हें बिना किसी घरेलू मैच के न्यूजीलैंड सीरीज के लिए नहीं चुना जा सकता है. वॉशिंगटन ने यहां एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘भारतीय टेस्ट टीम के लिए सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाना मेरे लिए सौभाग्य की बात होगी.’

उन्होंने कहा कि उन्हें टी20 विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले वर्ल्ड कप मुकाबले में विराट कोहली, केएल राहुल और रविंद्र जडेजा से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद है. वॉशिंगटन ने कहा, ‘मैं विराट भाई, केएल राहुल और रवींद्र जडेजा को देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं.’

टूर्नामेंट के सेमीफाइनल के बारे में पूछे जाने पर वॉशिंगटन ने कहा, ‘जाहिर है भारत के साथ-साथ वेस्टइंडीज, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमों के लिए अधिक संभावना है.’

(इनपुट: भाषा)