कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण इस समय क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प है. कोरोनावायरस के कारण पैदा हुई स्थिति में सुधार होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम और दक्षिण अफ्रीका पूर्व समझौते के तहत अगस्त के आखिर में 3 टी20 मैचों की सीरीज खेल सकते हैं.Also Read - BCCI ने किया बैकअप खिलाड़ियों के नाम का ऐलान; इंग्लैंड रवाना होंगे पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव

अभी इस सीरीज का कार्यक्रम अगस्त के आखिर में तय है लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी जॉक फॉल ने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड और सीएसए को बाद की तिथियों में भी इसके आयोजन में आपत्ति नहीं है. Also Read - तीन भारतीय खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद इंग्लैंड दौरे पर बैकअप भेजेगी BCCI

स्थगित होने पर बाद हो सकती है आयोजित  Also Read - India tour of England: अभ्यास मैच में चोटिल हुए भारतीय खिलाड़ी; स्क्वाड में केवल 22 फिट क्रिकेटर मौजूद

स्पोर्ट24.सीओ.जेडए के अनुसार फॉल ने गुरुवार को वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘भारत अपने समझौते का सम्मान करना चाहता है. अगर यह सीरीज स्थगित होती है तो इसे बाद में आयोजित किया जा सकता है.’

भारतीय क्रिकेट टीम के वो 5 सितारे जो चमके बहुत तेजी से लेकिन…

सीएसए अधिकारी ने कहा, ‘हमारी उनके (बीसीसीआई) बातचीत बहुत अच्छी रही.’ बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा कि सरकार से मंजूरी मिलने के बाद ही इस सीरीज की संभावना है.

उन्होंने कहा, ‘पहले हमें खिलाड़ियों को ‘ग्रीन जोन’ में अनुकूलन शिविर में रखना होगा. निश्चित तौर पर अगर चीजें सही रास्ते पर आगे बढ़ती हैं तो हम दक्षिण अफ्रीका में खेलेंगे.’

अगर ऐसा हुआ तो सीएसए का मिलेगा समर्थन 

बीसीसीआई का इस द्विपक्षीय सीरीज पर सहमत होने के का मतलब है कि अगर अक्टूबर नवंबर में टी20 विश्व कप के बजाय इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन करने के प्रयास किए जाते हैं तो उसे सीएसए का समर्थन मिलेगा.

सीएसए ने कहा कि यह सीरीज भारत और दक्षिण अफ्रीका दोनों देशों की सरकार की मंजूरी पर निर्भर होगी. फॉल ने कहा कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी सरकार से मंजूरी लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.