नई दिल्ली: क्रोएशिया ने पेनाल्टी शूटआउट तक गए फीफा विश्व कप के एक रोमांचक क्वार्टर फाइनल मुकाबले में रूस को 4-3 (2-2) में हराकर अगले दौर में जगह बना ली है. क्रोएशिया 1998 में हुए विश्व कप के बाद पहली बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश करने में कामयाब हुआ है जहां उसका सामना बुधवार को इंग्लैंड से होगा. फिश्ट स्टेडियम में शनिवार देर रात खेले गए मुकाबले में निर्धारित समय तक स्कोर 1-1 रहा और अतिरिक्त समय में भी दोनों टीमों ने एक-एक गोल किया जिसके कारण विजेता का फैसला पेनाल्टी शूटआउट द्वारा किया गया. पेनाल्टी शूटआउट में क्रोएशिया के चार खिलाड़ियों ने गोल दागे जबकि रूस के तीन खिलाड़ी ही गोल कर पाए. Also Read - CPL 2020 : लगातार 11वीं जीत दर्ज कर रिकॉर्ड चौथी बार कैरेबियाई प्रीमियर लीग के फाइनल में पहुंचे नाइटराइडर्स

Also Read - DY Patil Cup: हार्दिक पांड्या ने जड़ा दूसरा शतक; 55 गेंदो पर ठोकें 158 रन

शूटआउट से पहले क्रोएशिया के लिए एंद्रेज करामारिक (39वें मिनट) और डोमागोज विदा (101 मिनट) ने गोल दागा जबकि रूस के लिए डेनिस चेरीशेव (31वें मिनट) और मारियो फनार्डेज (115वें मिनट) ने गोल किया. Also Read - Women's T20 World Cup, IND vs ENG: बारिश के चलते SF रद्द, इस टीम ने बनाई फाइनल में जगह

दादा के बर्थडे पर सहवाग ने अनोखे अंदाज में किया विश, 4 तस्वीरों में बयां हुई कहानी

रूस ने क्रोएशिया के खिलाफ उम्मीद से बेहतर शुरुआत की और पहले मिनट से ही आक्रामक रूख अपनाया. क्रोएशिया ने भी मेजबान टीम को करारा जवाब दिया. छठे मिनट में क्रोएिशया ने काउंटर अटैक करके कॉर्नर अर्जित किया, हालांकि वे शुरुआती बढ़त बनाने में कामयाब नहीं हो पाए.

रूस के मिडफील्डर डेनिस चेरीशेव ने 31वें मिनट में बॉक्स के बाहर 25 गज के दूरी से दमदार गोल दागकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी. इसके आठ मिनट बाद, स्ट्राइकर मारियो मांजुकिक ने बाईं छोर से बॉक्स में एंद्रेज करामारिक को क्रॉस दिया जिन्होंने हेडर से गोल करके अपनी टीम को बराबरी दिला दी.

दूसरे हाफ में भी दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली. गोल करने का पहला साफ मौका क्रोएशिया के मिडफील्डर इवान पेरीसिक को 60वें मिनट में अपनी को बढ़त दिलाने का मौका मिला. पेरीसिक ने छह गज की दूरी से शॉट लगाया लकिन गेंद गोल पोस्ट से लगकर बाहर चली गई.

पति मोहम्मद शमी के कहने पर छोड़ दी थी मॉडलिंग, 4 साल बाद वापस लौंटी हसीन जहां

रूस ने भी गोल करने के मौके बनाए और क्रोएशिया के बॉक्स के पास लगातार हलचल मचाई. हालांकि, वे गेंद को गोल में नहीं डाल पाए और मैच अतिरिक्त समय में गया. अतिरिक्त समय में डोमागोज विदा (101 मिनट) ने क्रोएशिया को 2-1 की महत्वपूर्ण बढ़त दिला दी.

रूस ने मैच का दूसरा गोल खाने के बाद भी अपना संयम नहीं खोया. 115वें मिनट में मारियो फनार्डेज ने मेजबान टीम के लिए बराबरी का गोल दागा और मैच का पेनाल्टी शूटआउट तक गया जहां क्रोएशिया ने बाजी मारी.

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टी-20 मैच, सीरीज पर होगी टीम इंडिया की नजर

पेनाल्टी शूटआउट में क्रोएशिया के लिए मासेर्लो ब्राजोविक, लुका मोड्रिक, विदा और इवान रेकेटिक ने गोल किए जबकि रियल मेड्रिड से खेलने वाले मटिओ कोवाचिक गेंद को गोल में नहीं डाल पाए. रूस के लिए एलन ड्झागोव, सर्गेई इग्नाशेविक और डालेर कुज्येव ने गोल दागे जबकि एलेक्जेंडर सोमेडोव और फर्नाडेज गोल करने से चूक गए.