पुणे: आईपीएल के 35वें मुकाबले में चेन्‍नई ने बेंगलोर को छह विकेट से हरा दिया. 128 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी चेन्‍नई ने 18 ओवर में ही लक्ष्‍य हासिल कर लिया. इस जीत के साथ चेन्‍नई अंक तालिका में फिर से शीर्ष पर पहुंच गई जबकि बेंगलोर नौ मैचों में छठी हार के साथ छठे स्‍थान पर है. उसके लिए प्‍लेऑफ में पहुंचना अब मुश्किल होता है क्‍योंकि इसके लिए उसे अपने बाकी पांचों मैच जीतने होंगे.

चेन्‍नई के लिए शुरुआत अंबाति रायुडू और शेन वाटसन ने की, लेकिन वाटसन की पारी लंबी नहीं खिंच सकी. उन्‍हें उमेश यादव ने 11 रन बनाने के बाद बोल्‍ड किया जब टीम का स्‍कोर 18 रन था. इसके बाद सुरेश रैना और रायुडू ने पारी को संभाला और स्‍कोर 62 तक ले गए. इसी स्‍कोर पर रैना को उमेश यादव ने टिम साउदी के हाथों कैच कराया. इसके बाद रायुडू भी ज्‍यादा देर नहीं टिके और 25 गेंद पर 32 रन बनाकर एम अश्विन की गेंद पर आउट हुए. अगले ही ओवर में कोलिन ग्रैंडहोमे ने अपना पहला मैच खेल रहे ध्रुव शोरी को आउट कर चेन्‍नई को चौथा झटका दिया. विकेटों के गिरने के बाद भी चेन्‍नई के बल्‍लेबाजों के ऊपर कोई दबाव नहीं था. कप्‍तान एम एस धोनी और ड्वेन ब्रावो ने 18वें ओवर में ही लक्ष्‍य हासिल कर लिया. धोनी 23 गेंदों में 31 और ब्रावो 17 गेंद में 14 रन बनाकर नाबाद रहे.बेंगलोर के लिए उमेश यादव ने दो और ग्रैंडहोमे तथा अश्विन ने एक-एक विकेट लिए.

बेंगलूर की टीम पार्थिव पटेल की अर्धशतकीय पारी के बावजूद इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मैच में चेन्नई के खिलाफ नौ विकेट पर 127 रन ही बना सकी. चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर क्षेत्ररक्षण का फैसला किया. खिलाड़ियों ने बेहतरीन क्षेत्ररक्षण किया तो स्पिनरों ने शानदार गेंदबाजी की. रविंद्र जडेजा सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 18 रन देकर तीन विकेट हासिल किए जबकि हरभजन सिंह ने 22 रन देकर दो विकेट प्राप्त किए.

पार्थिव के अलावा केवल टिम साउदी (नाबाद 36 रन) ही आरसीबी के लिये दोहरे अंक के स्कोर तक पहुंच सके. आईपीएल में पदार्पण कर रहे डेविड विली (24 रन देकर एक विकेट) ने गेंदबाजी की शुरुआत की. सलामी बल्लेबाज ब्रैंडन मैकुलम (05) ने ओवर की अंतिम गेंद को सीमारेखा के बाहर पहुंचाया।, पर लुंगी एनगिडी (24 रन देकर एक विकेट) ने अगले ओवर की दूसरी ऑफकटर गेंद को न्यूजीलैंड का यह स्टार बल्लेबाज समझ नहीं सका और मिड ऑन पर शार्दुल ठाकुर को कैच देकर आउट हो गया.

पटेल ने इसी ओवर में दो चौके जड़कर रन गति बनाए रखने की कोशिश की, लेकिन वह और विराट कोहली तेजी से रन नहीं जुटा सके जिससे टीम ने पावरप्ले में छह ओवर में एक विकेट पर 47 रन बनाए. कप्तान कोहली भी ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक सके और 11 गेंद में आठ रन बनाकर जडेजा की पहली ही गेंद पर बोल्ड हो गए. टीम ने 6.1 ओवर में दूसरा विकेट गंवाया.

अगले ओवर में एबी डिविलियर्स (01) हरभजन सिंह का शिकार बने, जिन्हें विकेटकीपर धोनी ने स्टंप किया. जडेजा ने मनदीप सिंह (07) के रूप में दूसरा विकेट हासिल किया. इसी दौरान पटेल ने 37 गेंद में पांच चौके और दो छक्कों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया. जडेजा ने फिर अपनी ही गेंद पर पटेल का कैच लेकर इस विकेटकीपर बल्लेबाज की पारी का भी अंत किया, जिन्होंने 41 गेंद में पांच चौके और दो छक्कों सहित 53 रन बनाए.

बेंगलूर ने 13वें ओवर में पटेल, 14वें ओवर में मुरूगन अश्विन, 15वें ओवर में कोलिन ग्रैंडहोमे और 16वें ओवर में उमेश यादव के विकेट गंवाए जिससे उसका स्कोर पांच विकेट 84 रन से आठ विकेट पर 89 रन हो गया. विली ने ग्रैंडहोमे का विकेट लेने के बाद उमेश यादव को रन आउट किया. बेंगलोर ने 17.1 ओवर में 100 रन पूरे किए. साउदी ने कुछ रन जुटाने का प्रयास किया और 26 गेंद में तीन चौके और एक छक्के से नाबाद 36 रन बनाए. अंतिम ओवर में मोहम्मद सिराज रन आउट हुए.