नई दिल्ली. BCCI की T20 क्रिकेट लीग यानी कि IPL के फाइनल में अपनी जगह पक्की कर चेन्नई सुपरकिंग्स ने एक बार फिर से अपने नाम का डंका बजा दिया है. 2 साल के बैन के बाद वापसी करते हुए फाइनल तक का सफर तय करना आसान नहीं होता लेकिन धोनी की कमान में येलो ब्रिगेड ने जिस तरह से इस काम को अंजाम दिया है उसे देखकर हिंदुस्तान मस्त है तो पाकिस्तान पस्त पड़ चुका है. IPL में CSK के जोरदार अंदाज को देखकर पाकिस्तान में खलबली क्यों मची है वो बताएंगे आपको लेकिन उससे पहले वो आंकड़े देख लीजिए जिसे देखकर हिदुस्तान मस्त हो रखा है.

IPL का 7वां फाइनल

धोनी के सुपरकिंग्स का ये 9वां IPL सीजन है और कमाल की बात है कि सभी में उन्होंने प्ले ऑफ तक का सफर पूरा किया है. यही नहीं इन 9 में 7 बार उन्होंने अपनी फाइनल की बर्थ भी कन्फर्म की है , जो कि एक रिकॉर्ड है. इस सीजन CSK अपना 7वां फाइनल खेलेगी तो IPL में धोनी का ये 8वां फाइनल मुकाबला होगा. इसी के साथ धोनी T20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा 13 फाइनल खेलने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं. धोनी की तरह ही सुरेश रैना का भी T20 क्रिकेट में ये 13वां फाइनल होगा.

2 साल बाद फिर से हो गया था धोनी के साथ ये अपशगुन, बाल-बाल बचे!

2 साल बाद फिर से हो गया था धोनी के साथ ये अपशगुन, बाल-बाल बचे!

T20 क्रिकेट का 9वां फाइनल

IPL में अपना 7वां फाइनल खेल रही चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए ये T20 क्रिकेट में उसका 9वां फाइनल मुकाबला होगा. 7 IPL फाइनल के अलावा CSK ने चैम्पियंस लीग के भी 2 फाइनल खेले हैं.

IPL में डंका, पाकिस्तान में हल्ला!

अब जरा ये समझिए कि चेन्नई सुपरकिंग्स के इस आंकड़े का पाकिस्तान कनेक्शन क्या है. T20 क्रिकेट में 9 फाइनल खेलने के मामले धोनी के सुपरकिंग्स ने सियालकोट स्टालियंस नाम की टीम के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. सियालकोट स्टालियंस PSL यानी पाकिस्तान सुपर लीग का हिस्सा है और पाकिस्तान सुपर लीग PCB की क्रिकेट लीग है. CSK के अपने बराबरी पर पहुंचने से जाहिर है पाकिस्तान की T20 टीम सियालकोट स्टालियंस में खलबली मची होगी और हो सकता है कि अगले सीजन धोनी एंड कंपनी उन्हें पीछे छोड़ दे.