CSKvsRR IPL 2020: राजस्थान रायल्स (Rajasthan royals) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) मैच में सोमवार को यहां चेन्नई सुपरकिंग्स को 16 रन से हरा दिया. आईपीएल 2020 का पहला मैच माही की टीम ने जीता था लेकिन अपने दूसरे मैच में उन्हें एक हाई स्कोर वाले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा. रायल्स ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर सात विकेट पर 216 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया. इसके जवाब में चेन्नई ने छह विकेट पर 200 रन बनाये.Also Read - IPL 2022: लखनऊ फ्रेंचाइजी की कमान संभालेंगे केएल राहुल; मार्कस स्टोइनिस, रवि बिश्नोई भी शामिल

हार के बाद एमएस धोनी ने कहा कि हमें अच्छी शुरुआत करने की जरूरत थी. चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पृथकवास में बिताये गये 14 दिन अब भी अखर रहे हैं लेकिन उन्होंने राजस्थान रायल्स के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग में मंगलवार को मिली 16 रन की हार के लिये अपने स्पिनरों को जिम्मेदार ठहराया. Also Read - मैदान पर कभी कभी हो जाती है गर्मागर्मी; जसप्रीत बुमराह के साथ विवाद पर बोले मार्को जेनसन

उन्होंने कहा, “जब 217 रन का लक्ष्य हो तो हमें बहुत अच्छी शुरुआत की जरूरत थी जो हमें नहीं मिली. स्टीव (स्मिथ) और सैमसन ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की. उनके गेंदबाजों को भी श्रेय जाता है. उनके स्पिनरों ने बल्लेबाजों से गेंद को दूर रखकर अच्छा काम किया. हमारे स्पिनरों ने बहुत अधिक फुललेंथ गेंद करके गलती की. अगर हम उन्हें 200 रन पर रोक लेते तो यह अच्छा मैच होता.” Also Read - IPL 2022: लखनऊ या अहमदाबाद ने नहीं दी कप्तानी, अब मेगा ऑक्शन में उतरेंगे श्रेयस अय्यर

हालांकि मैच के अंत में धोनी ने तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की लेकिन वे टीम को जीत नहीं दिला पाए. धोनी जब क्रीज पर उतरे तब चेन्नई को 38 गेंदों पर 103 रन की जरूरत थी. धोनी ने टॉम कुरेन के पारी के आखिर ओवर में लगातार तीन छक्के लगाकर अपने तेवर दिखाए लेकिन मैच हार गए.

धोनी काफी नीचे बल्लेबाजी के लिए आए. इस पर उन्होंने कहा, “मैंने लंबे समय से बल्लेबाजी नहीं की है. इसके अलावा 14 दिन के पृथकवास से भी मदद नहीं मिली. इसके अलावा मैं और चीजों को भी आजमाना चाहता था, सैम को (टॉप ऑर्डर में) अवसर देना चाहता था. विभिन्न चीजों को आजमाने का अवसर मिला. हालांकि अगर यह काम नहीं करता है, तो आप हमेशा अपनी पुरानी ताकत पर वापस जा सकते हैं.” उन्होंने फाफ डुप्लेसी की तारीफ करते हुए कहा कि उसने बहुत अच्छी तरह से बल्लेबाजी की.”