वर्ल्ड नंबर-6 जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव शंघाई मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के पुरुष एकल वर्ग के फाइनल में रूस के डेनिल मेदवेदेव से भिड़ेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों ने शनिवार को अपने-अपने सेमीफाइनल मैच जीत खिताबी भिड़ंत तय की।

ज्वेरेव ने इटली के माटेओ बारेटिनी को मात दी। रूसी खिलाड़ी ने अन्य सेमीफाइनल में ग्रीस के युवा स्टीफानोस सितसिपास को हराया।

ज्वेरेव ने 11वीं सीड बारेटिनी को सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से परास्त किया। तीसरी सीड मेदवेदेव ने सितसिपास को 7-6 (5), 7-5 से हराया। सितसिपास और मेदवेदेव पांचवीं बार आमने-सामने हुए थे और हमेशा रूसी खिलाड़ी हावी रहे हैं।

टूर्नामेंट की आधिकारिक वेबसाइट ने मेदवेदेव के हवाले से लिखा है, “जाहिर सी बात है, इससे पता चलता है कि मैं उनके लिए आसान विपक्षी नहीं हूं। लेकिन मुझे लगता है कि जितने मुकाबले हुए हैं उनका कोई असर होता है क्योंकि ये नया मैच था नई परिस्थतियां थीं।”

एक समय राष्ट्रीय टीम में खेलने के करीब था, अब पिक-अप ट्रक चला रहा है ये पाकिस्तानी क्रिकेटर

ज्वेरेव ने मेदवेदेव को कुल चार बार मात दी है। हालांकि इनमें से कोई भी मैच इस सीजन नहीं हुआ।

ज्वेरेव ने फाइनल में रूसी खिलाड़ी से भिड़ने के बारे में कहा, “वो इस साल अलग खिलाड़ी हैं। वो शानदार टेनिस खेल रहे हैं। अगर बीते कुछ महीने देखे जाएं तो वो विश्व के बेहतरीन खिलाड़ी रहे हैं। उन्होंने मास्टर टूर्नामेंट सिनासिनाटी जीता, लगातार छह फाइनल में पहुंचे। अमेरिका ओपन के फाइनल में पहंचे। वो निश्चित तौर पर अपने करियर की बेहतरीन टेनिस खेल रहे हैं।”