नई दिल्ली : पाकिस्तान के प्रतिबंधित लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने गुरूवार को कहा कि उन्होंने स्पाट फिक्सिंग में शामिल होने की बात कबूल कर ली है जिस पर पाकिस्तानी क्रिकेट जगत ने हैरानी जताई है. कनेरिया ने कहा, ‘‘मैं क्रिकेट बोर्ड, अपने प्रशंसकों और पाकिस्तानी लोगों से कहना चाहूंगा कि मेरी स्थिति समझे और मुझे माफ कर दें. मैंने एक सटोरिये से संपर्क रखकर और अधिकारियों को इसकी इत्तिला नहीं करके गलती की जिसका मैने खामियाजा भुगता.’’

पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट कप्तान रशीद लतीफ ने कहा, ‘‘मैं हैरान हूं क्योंकि दानिश के मामले के शुरूआती दिनों में मैने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों से मिलकर उसका पक्ष उनके सामने रखकर कहा कि उसकी बात सुनी जानी चाहिये. मुझे लगा कि वह बेकसूर है.’’

जिम में इरफान पठान की मदद कर रहा उनका नन्हा बेटा, देखें VIDEO

पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल कादिर ने कहा कि कनेरिया के गुनाह कबूल करने से पाकिस्तान क्रिकेट की छवि खराब हुई है. कादिर ने कहा, ‘‘अल्लाह जाने कि ये खिलाड़ी क्या सोचते हैं. हमें गलत कारणों से सुर्खियों में रहना पड़ रहा है. मुझे यह जानकर बहुत दुख हुआ कि उसने हमसे छह साल तक झूठ बोला.’’

पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज मोहसिन खान ने कहा, ‘‘कनेरिया ने छह साल बाद ही सही, ठीक किया. मुझे लगा कि उसकी अंतरात्मा उसे कचोट रही होगी. उस पर पहले ही आजीवन प्रतिबंध लगा हुआ है.’’

INDvsWI: वनडे सीरीज से पहले वेस्टइंडीज को झटका, टीम के दिग्गज खिलाड़ी ने खेलने से किया मना

गौरतलब है कि कनेरिया ने इससे पहले था कि कहा, ‘‘मैं एसेक्स के अपने साथी खिलाड़ी मर्विन वेस्टफील्ड से, एसेक्स क्रिकेट क्लब और एसेक्स के प्रशंसकों से माफी मांगना चाहता हूं. मैं पाकिस्तान से माफी मांगता हूं.’’

वेस्टफील्ड ने 2009 में डरहम में 40 ओवरों के एक काउंटी मैच के दौरान अपने पहले ओवर में 12 रन देने की एवज में कथित सटोरिये अनु भट्ट से 7862 डॉलर लिये थे. कनेरिया की मध्यस्थता में यह सौदा हुआ था जिसने वेस्टफील्ड को भट्ट से मिलवाया था.