बॉल टेम्परिंग विवाद में दोषी पाए गए ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के उपकप्तान के पद से हटाए गए डेविड वॉर्नर ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. शनिवार को मीडिया से बातचीत के दौरान डेविड वॉर्नर फूट-फूटकर रो पड़े. एक साल का प्रतिबंध झेल रहे वॉर्नर ने क्रिकेट फैन्स से माफ़ी मांगते हुए कहा- मैंने जो निर्णय लिया था उसके लिए जिंदगी भर अफसोस रहेगा.Also Read - Ashes 2021: Steve Smith को उपकप्तानी मिलने से निराश हैं Shane Warne

उन्होंने कहा, ‘मेरे दिमाग में कहीं न कहीं यह बात है कि एक दिन फिर मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा, लेकिन हो सकता है कि शायद वह दिन अब कभी न आए. पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वॉर्नर बार-बार माफी मांगते रहे. इस बीच कई बार उनके आंसू छलक गए. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वॉर्नर के साथ उनकी पत्नी कैंडिस भी मौजूद थी जो काफी दुखी थी. Also Read - Ashes 2021: Steve Smith को उप कप्तान चुने जाने से खफा Ian Chappell, याद दिलाया 'सैंडगेट प्रकरण'

वॉर्नर ने माना कि उनकी वजह से क्रिकेट बदनाम हुआ और इसके लिए वह फैंस, अपने परिवार और दक्षिण अफ्रीका से माफी मांगते हैं. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ के भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में आंसू छलक आए थे. Also Read - Remembering Phillip Hughes: आज के दिन क्रिकेट जगत से छिन गया था ये चमकता सितारा

बता दें कि बॉल टेंपरिंग के मामले में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने  स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर 1 साल का बैन लगाया जबकि बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध लगाया.

बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद स्मिथ और वॉर्नर को आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान पद से हटा दिया गया है.