पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में तिहरा शतक जड़ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डेविड वार्नर (David Warner) ने एडिलेड के मैदान पर इतिहास रच दिया है। वार्नर एडिलेड ओवल स्टेडियम में 300 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। इसी के साथ वार्नर ने पूर्व दिग्गज सर डोनाल्ड ब्रैडमेन (Sir Don Bradman) के इसी मैदान पर बनाए नाबाद 299 रनों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।

वार्नर ने 418 गेंदों पर 335 रन की पारी खेली जो कि टेस्ट क्रिकेट में किसी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज का बनाया दूसरा सबसे बड़ा निजी स्कोर है। वार्नर ने पूर्व खिलाड़ियों मार्क टेलर (Mark Taylor) और ब्रैडमेन को पीछे छोड़ दिया है, जिन्होंने अपने टेस्ट करियर में 334-334 रनों की नाबाद पारियां खेली थी। हालांकि इस सूची में मैथ्यू हेडन (Matthew Hayden) जिम्बाब्वे के खिलाफ खेली 380 रनों की पारी के साथ अब भी शीर्ष पर हैं।

मैच के दूसरे दिन वार्नर ने 120वें ओवर में मोहम्मद अब्बास की पहली गेंद पर खूबसूरत चौका जड़ अपने टेस्ट करियर का पहला और डे-नाइट फॉर्मेट का दूसरा तिहरा शतक बनाया। वार्नर ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक बनाने वाले सातवें बल्लेबाज हैं। उनसे पहले ब्रैडमेन, हेडन, टेलर के साथ माइकल क्लार्क, बॉब सिम्पसन, बॉल कॉवर ये कारनामा कर चुके हैं।

एडिलेड में पाकिस्तान के खिलाफ बनाए 335 रन का स्कोर ना केवल वार्नर के करियर का सर्वाधिक निजी स्कोर है बल्कि डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट में किसी भी बल्लेबाज का अब तक बनाया सबसे बड़ा निजी स्कोर है। वार्नर पाकिस्तानी कप्तान अजहर अली (Azhar Ali) के बनाए 302* रन के स्कोर से आगे निकल गए हैं।

सबसे तेज 7,000 टेस्ट रन बनाने वाले बल्लेबाज बने स्टीव स्मिथ; डॉन ब्रैडमेन से आगे निकले

एडिलेड में ऐसा चौथी बार हुआ है जब पाकिस्तान टीम के खिलाफ किसी खिलाड़ी ने 300 से ज्यादा रनों की पारी खेली है। वार्नर ने अपने तिहरे शतक का जश्न अपने सिग्नेशन स्टाइल में हवा में छलांग लगाकर मनाया। इसके बाद उन्होंने अपना बैट ऊपर उठाकर दिवंगत साथ खिलाड़ी फिलिप ह्यूज को याद किया और फिर स्टेडियम में मौजूद दर्शकों का अभिनंदन किया।