नई दिल्ली : बॉल टेम्परिंग मामले में 12 महीने का प्रतिबंध झेल रहे ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने कहा है कि जिस भी टीम के लिए वह खेल रहे हैं, उसके लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना उनका प्रमुख काम है. आईसीसी वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) में हिस्सा लेने के लिए ढाका पहुंचे वॉर्नर मीडिया से मुखातिब हो रहे थे. इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि प्रतिबंध समाप्त होने के बाद क्या वह फिर से राष्ट्रीय टीम के लिए खेलना पसंद करेंगे.

वॉर्नर ने कहा, “मेरा काम इस टूर्नामेंट (बीपीएल) और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रन बनाने का है. मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि जिस भी टीम के लिए मैं खेलूं उसके लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूं. बाकी सब चयनकर्ताओं के ऊपर है, कि वे मुझे चुनते हैं या नहीं.”

LIVE AUSvsIND: ऑस्ट्रेलिया ने की अच्छी शुरुआत, लंच ब्रेक तक बनाए 122 रन

वॉर्नर पर लगा 12 महीने का प्रतिब्ंध इस वर्ष मार्च खत्म हो जाएगा. बीपीएल में वह सिलहट सिक्सर्स के लिए कप्तानी करेंगे. सिल्हट को अपना पहला मुकाबला छह जनवरी को कोमिला विक्टोरियंस के साथ खेलना है जिसकी कप्तानी ऑस्ट्रेलिया पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ कर रहे हैं.

स्मिथ भी बॉल टेम्परिंग मामले में इस समय 12 महीने का प्रतिबंध झेल रहे हैं. वॉर्नर ने कहा, “टीम की कप्तानी करना मेरे लिए शानदार है. अब समय फिर से क्रिकेट खेलने का है और कोशिश करने का है कि सिलहट सिक्सर्स शीर्ष पर पहुंचे. मुझे यह सुनिश्चित करना है कि मैं सही से अपना काम करूं और टीम के लिए रन बनाऊं.”

उन्होंने कहा, “मेरे लिए जिंदगी काफी अच्छी रही. मैं अपने परिवार के साथ समय बिता रहा हूं. मैं ऐसा नहीं कर पाता अगर मैं टीम से बाहर नहीं बैठा होता. ये अपने अंदर के सर्वश्रेष्ठ व्यक्तित्व को ढूंढने की है और बतौर इंसान बेहतर बनने की है. मेरे लिए सबसे अहम घर पर पिता और पति बन पाना था.”