नई दिल्ली : डेविड वॉर्नर और कगिसो रबाडा का आईपीएल 2019 का सफर भले ही लीग चरण में ही समाप्त हो गया लेकिन शुरुआती मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर ये दोनों अब भी क्रमश: ‘ओरेंज कैप’ और ‘पर्पल कैप’ के प्रबल दावेदार बने हुए हैं. वॉर्नर ने सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से 12 मैचों में एक शतक और आठ अर्धशतकों की मदद से 692 रन बनाये. इसके बाद वह विश्व कप की तैयारियों के सिलसिले में स्वदेश लौट गये लेकिन अब भी आईपीएल के एक सत्र में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज को मिलने वाली ओरेंज कैप इस आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के पास ही है.

वॉर्नर के अलावा केएल राहुल (593) और आंद्रे रसेल (510) ही वर्तमान सत्र में अभी तक 500 से अधिक रन बना पाये हैं, लेकिन इन दोनों की टीमें क्रमश: किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइटराइडर्स लीग चरण में ही बाहर हो गयी हैं. वॉर्नर के लिये अभी मुंबई इंडियन्स के क्विंटन डिकॉक और दिल्ली कैपिटल्स के शिखर धवन थोड़ी चुनौती बने हुए हैं.

डिकॉक ने 492 रन बनाये हैं और उन्हें अब अधिक से अधिक तीन मैच खेलने को मिलेंगे जिसमें 200 से अधिक रन बनाने पर ही वह ओरेंज कैप हासिल कर सकते हैं. यही स्थिति धवन की है जिनके नाम पर 486 रन दर्ज हैं. दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर (446 रन) और ऋषभ पंत (401) हर मैच में बड़ी पारियां खेलकर ही ओरेंज कैप के दावेदार बन पाएंगे.

वर्ल्ड कप 2019: टीम इंडिया को लगा झटका, दिग्गज खिलाड़ी हुआ चोटिल

सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज को मिलने वाली ‘पर्पल कैप’ अभी दिल्ली के रबाडा के पास है जिन्हें पीठ दर्द के कारण दक्षिण अफ्रीका ने ऐहतियात के तौर पर स्वदेश बुला दिया है. रबाडा ने 12 मैचों में 25 विकेट लिये हैं. उनकी पर्पल कैप के लिये सबसे बड़ा खतरा उनके हमवतन इमरान ताहिर बने हुए हैं जिन्होंने चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ से अब तक 21 विकेट लिये हैं.

पांड्या के साथ एक्ट्रेस ने शेयर की फोटो, हार्दिक हुए फिर से ट्रोल

प्लेऑफ में जगह बनाने वाली चार टीमों में से हैदराबाद के खलील अहमद और मुंबई के जसप्रीत बुमराह ने 17-17, चेन्नई के दीपक चाहर ने 16 तथा हैदराबाद के राशिद खान और मुंबई के लेसिथ मलिंगा ने 15 -15 विकेट लिये हैं और असाधारण प्रदर्शन के दम पर वे पर्पल कैप हासिल कर सकते हैं.