नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने लगातार हो रहे क्रिकेट मैचों पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे खिलाड़ी मानसिक और शारीरिक रूप से बेहद थक जाते हैं. वॉर्नर ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से खिलाड़ियों पर पड़ रहे काम के भार और अंतर्राष्ट्रीय मैचों की संख्या प्रबंधित करने का आग्रह किया.

‘क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू’ ने वॉर्नर के हवाले से बताया, “पहली नजर में आप यह कह सकते हैं कि हमने बेहतरीन प्रदर्शन किया लेकिन अच्छा प्रदर्शन करते समय भी आपको ब्रेक की जरूरत होती है.”

सैयद किरमानी का धोनी के पक्ष में बयान, आलोचकों को दिया करारा जवाब

वॉर्नर ने कहा, “अगर आप इंग्लैंड की टीम को देखें तो शायद केवल चार खिलाड़ी टेस्ट एवं वनडे दोनों सीरीज में खेले और क्रिस वोक्स के अलावा कोई अन्य गेंदबाज नहीं था. ऐसी छोटी चीजें हमें लाभ पहुंचा सकती हैं. हम में से कुछ खिलाड़ी मानसिक तौर पर थक गए थे.”

वॉर्नर ने टी-20 टीम का उदहारण देते हुए कहा, “आप टी-20 टीम को देखें. वह खिलाड़ी तरो-ताजा हैं और शानदार प्रदर्शन कर रहें हैं.”

हर्शल गिब्स से भिड़े अश्विन, मैच फिक्सिंग का लगाया गंभीर आरोप

उन्होंने कहा, “यह हर खिलाड़ी का व्यक्तिगत निर्णय है कि वह खेलने से मना कर दें. आपको इसके लिए मारा नहीं जाएगा, आप एक वयस्क व्यक्ति हैं और यह निर्णय पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है लेकिन हम आराम की मांग नहीं कर सकते क्योंकि हम हर दिन अपने सपने को जी रहे हैं.”

ऑस्ट्रेलिया 21 मार्च को टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ेगी और एक मार्च से टीम दक्षिण अफ्रीकी दौरे का पहला टेस्ट मैच खेलेगी.