नई दिल्‍ली: बांग्‍लादेश प्रीमियर लीग में बुधवार को सिलहट सिक्‍सर्स और रंगपुर राइडर्स के बीच का मुकाबला डेविड वार्नर के चलते अनोखा बन गया. बाएं हाथ के बल्‍लेबाज वार्नर ने इस मैच में दाएं हाथ से बल्‍लेबाजी की. इतना ही नहीं, क्रिस गेल की तीन लगातार गेंदों पर एक छक्‍कर और दो चौके लगाकर उन्‍होंने जता दिया कि वे दाएं हाथ से बैटिंग करने में भी कमजोर नहीं हैं. Also Read - RCB vs KKR, Top 3 Batting Performance: बैंगलोर के खिलाफ ब्रेंडन मैक्‍कुलम ने खेली थी 158 रनों की पारी, ये हैं दोनों टीमों का इतिहास

Also Read - Most Sixes by Indian in IPL: Rohit Sharma ने तोड़ा MS Dhoni का रिकॉर्ड, क्रिस गेल से अब इतना दूर हैं हिटमैन

पिछले साल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्‍ट में बॉल टेम्‍परिंग के आरोपों के बाद एक साल का प्रतिबंध झेल रहे वार्नर फिलहाल बीपीएल में सिलहट सिक्‍सर्स टीम का हिस्‍सा हैं और इसके कप्‍तान भी हैं. रंगपुर राइडर्स के खिलाफ इस मुकाबले में उन्‍होंने 36 गेंदों पर 61 रन की पारी खेली और नाबाद रहे. Also Read - IPL 2021, PBKS vs CSK: Ravindra Jadeja ने डाइव लगाकर पकड़ा क्रिस गेल का कैच, KL Rahul भी बने शिकार, देखें VIDEO

दो साल बाद विंडीज टेस्‍ट टीम में ब्रावो की वापसी, इस खिलाड़ी को पहली बार मिला मौका

उन्‍होंने शुरुआत तो बाएं हाथ से की, लेकिन पारी के 19वें ओवर में उन्‍होंने अचानक दाएं हाथ से बल्‍लेबरजी के लिए फिर से गार्ड लिया. क्रिस गेल गेंदबाजी कर रहे थे और ओवर की पहली तीन गेंदों पर बाएं हाथ से बैटिंग करते हुए वार्नर केवल दो रन बना पाए थे. चौथी गेंद पर उन्‍होंने दाएं हाथ से बैटिंग शुरू की और पहली ही गेंद पर छक्‍का लगाकर अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की. गेल की अगली दो गेंदों पर भी ताबड़तोड़ चौके जड़ उन्‍होंने ओवर में 16 रन जुटा लिए.

धोनी के समर्थन में आए गावस्‍कर, कहा- कंसिस्‍टेंसी की कमी को भी बर्दाश्‍त करें क्‍योंकि वे टीम के लिए अहम हैं

अगले ओवर में शफीउल इस्‍लाम गेंदबाजी करने को आए लेकिन वार्नर इस ओवर में एक गेंद का ही सामना कर सके. इस गेंद पर वे कोई शॉट नहीं लगा सके, लेकिन बाई के रूप में एक रन लिया. कुल मिलाकर 36 गेंद की अपनी पारी में उन्‍होंने 32 गेंदें बाएं हाथ से खेलीं और इन पर 47 रन बनाए. वहीं, दाएं हाथ से उन्‍होंने चार गेंदें खेलीं ओर 14 रन ठोक डाले.