नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज साइमन कैटिच का मानना है कि आगामी विश्व कप में डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ न केवल अंतिम एकादश में जगह बनाएंगे बल्कि खिताब बचाने में भी टीम के लिए अहम भूमिका भी निभाएंगे. पूर्व कप्तान स्मिथ और पूर्व उपकप्तान वॉर्नर बॉल टेम्परिंग मामले में एक साल के प्रतिबंध के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में लौटे हैं. आईपीएल के 12वें सीजन में जहां, वॉर्नर सर्वोच्च स्कोरर रहे थे तो वहीं स्मिथ ने न्यूजीलैंड के खिलाफ अभ्यास मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया था. Also Read - फैन्‍स की डिमांड पर David Warner ने मैदान पर ही लगाए ठुमके, VIDEO हुआ वायरल

Also Read - India vs Australia: IPL में फ्लॉप रही थी कंगारू तिकड़ी, ऑस्ट्रेलिया आते ही बजाया डंका

कैटिच ने कहा, “वे दोनों शानदार खिलाड़ी हैं और उनका रिकॉर्ड खुद ही बोलता है. आस्ट्रेलियाई टीम का मुश्किल भाग ये है कि टॉप-4 में उनके पास कई सारी संभावनाएं हैं.” उन्होंने कहा, “वे दोनों शीर्ष चार के खिलाड़ी हैं. वहां पर उस्मान ख्वाजा, एरॉन फिंच, शॉन मार्श और ये दोनों हैं. ये खिलाड़ी शीर्ष चार के लिए पूरी तरह से फिट हैं. इसके बाद मैक्सवेल और स्टोयनिस भी है, इसलिए यह एक मुश्किल फैसला होने वाला है.” Also Read - India vs Australia 1st ODI 2020/21: स्टीव स्मिथ ने 62 गेंदों पर शतक ठोक हासिल की बड़ी उपलब्धि, Mathew Hyden के विशिष्ट क्लब में पहुंचे

विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलिया तैयार, देखें किस क्षेत्र में मजबूत हैं टीम

विश्व कप के बाद ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड के साथ एशेज सीरीज भी खेलनी है. 43 वर्षीय कैटिच ने कहा, ” ऑस्ट्रेलियाई टीम स्मिथ और वार्नर के अनुभव के साथ वापसी करेगी. बल्लेबाजी क्रम संतुलित होने के चलते टीम सही दिशा में आगे बढ़ेगी.”

आईपीएल में कोलकाता नाइरट राइडर्स के सहायक कोच की भूमिका निभाने वाले कैटिच का मानना है कि विश्व कप में दिनेश कार्तिक भारतीय टीम में नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए उपर्युक्त होंगे. उन्होंने कहा, ” नंबर-4 को लेकर पहले ही काफी बातें की जा चुकी है और वह एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो मध्यक्रम में समय बिता सकते हैं. एक बार जब वह सेट हो जाते हैं तो फिर उनके सामने गेंदबाजी करना मुश्किल है. सेट होने के बाद वह अपनी टाइमिंग से गेंद को सीमा रेखा के पार भेज सकते हैं.”

संन्यास लेने का मन बना रहे हैं युवराज सिंह, टी-20 लीग में खेलना रखेंगे जारी

कैटिच ने साथ ही कहा, “किसी खिलाड़ी को टी-20 के आधार पर वनडे क्रिकेट के लिए जज करना मुश्किल होगा.” विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया को अपना मैच एक जून को अफगानिस्तान के साथ खेलना है.