नई दिल्ली: दिल्ली कैपिटल्स टीम ने अपने घर फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में शनिवार को राजस्थान रॉयल्स को पांच विकेट से हराकर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मौजूदा सीजन की अंक तालिका में दूसरा स्थान हासिल कर लिया. दिल्ली की टीम पहले ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी है. आगे की लड़ाई पहले ही हार चुकी राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान टीम को 116 रनों का लक्ष्य दिया, जिसे उसने ऋषभ पंत (नाबाद 50) की उम्दा पारी की मदद से 16.1 ओवरों में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया. दिल्ली की ओर से पंत के अलावा शिखर धवन ने 16, कप्तान श्रेयस अय्यर ने 16, कोलिन इंग्राम ने 12 और शेरफाने रदरफोर्ड ने 11 रन बनाए.

 

इस सीजन में यह दिल्ली की 14 मैचों में कुल नौवीं जीत है, जबकि घर में उसे सात मैचों में चौथी जीत मिली है. इस जीत के साथ दिल्ली के 18 अंक हो गए हैं. दूसरी ओर, राजस्थान की टीम की यह आठवीं हार है. उसे पांच मैचों में जीत मिली है. राजस्थान का एक मैच रद्द भी हुआ है. राजस्थान 10 टीमों की तालिका में छठे स्थान पर है. बहरहाल, धवन (16 रन, 12 गेंद, 2 चौके) ने पृथ्वी शॉ (8 रन, 8 गेंद, 1 चौका) के साथ दिल्ली को तेज शुरुआत दिलाई, लेकिन धवन चौथे ओवर की पहली गेंद पर आउट हो गए. धवन को ईश सोढ़ी ने रियान पराग के हाथों मिडआन पर कैच कराया. एंड चेंज करके जब पृथ्वी ने अगली गेंद का सामना किया तो वह सोढ़ी द्वारा बोल्ड कर दिए गए. दिल्ली को 28 के कुल योग पर ही दूसरा झटका लगा. इसके बाद दिल्ली का नैया पार लगाने कप्तान अय्यर और पंत आए.

 

अय्यर ने सोढ़ी के एक ही ओवर में दो छक्के लगाकर अपने इरादे जाहिर कर दिए. इसी ओवर में पंत ने भी एक चौका लगाया. सोढ़ी के दूसरे ओवर में 17 रन आए. अब बारी थी पंत की और उन्होंने अगला ओवर फेंकने आए पराग के ओवर में दो छक्के लगाते हुए अपने भी खतरनाक इरादे जता दिए. पराग के इस ओवर में 14 रन आए. ऐसा लग रहा था कि ये दोनों बल्लेबाज दिल्ली को जीत दिलाकर ही दम लेंगे, लेकिन अपना दूसरा ओवर डालने आए श्रेयस गोपाल ने अय्यर को लांग आन पर लियाम लिविंगस्टोन के हाथों कैच कराकर दिल्ली को तीसरा झटका दिया. कप्तान ने नौ गेंदों पर 15 रन बनाए. कप्तान का विकेट आठवें ओवर तीसरी गेंद पर गिरा. इसके बाद इंग्राम और पंत ने स्कोर को 10 ओवर मे 70 रनों तक पहुंचाया. अगले दो ओवर में सात रन बने. रन धीमी गति से बन रहे थे और दिल्ली लक्ष्य की ओर अग्रसर थी, लेकिन सोढ़ी ने पारी के 14वें ओवर में इंग्राम को कप्तान अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराकर दिल्ली को चौथा झटका दिया.

रदरफोर्ड का विकेट 106 के कुल योग पर गिरा. इसके बाद पंत ने कमान संभाली और दो चौकों और चार छक्कों की मदद से अपनी टीम को जीत दिला दी. पंत ने सोढ़ी की गेंद पर छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया. पंत ने 38 गेंदों का सामना किया. राजस्थान की ओर से सोढ़ी ने तीन और गोपाल ने दो विकेट लिए. इससे पहले, फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में लंबे समय तक खेल चुके ईशांत शर्मा और अमित मिश्रा की अच्छी गेंदबाजी के दम पर मेजबान दिल्ली ने राजस्थान को निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 115 रनों पर सीमित कर दिया.

मिश्रा ने 17 रन देकर तीन विकेट लिए जबिक ईशांत ने 38 रन देकर इतने ही विकेट हासिल किए. राजस्थान के लिए रियान पराग ने सबसे अधिक 50 रन बनाए. दिल्ली के लिए ट्रेंट बाउल्ट ने भी दो विकेट लिए. टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी कर रही राजस्थान को कप्तान रहाणे (2) के रूप में पहला झटका 11 रनों के कुल योग पर लगा. वह ईशांत की गेंद पर शिखर धवन के हाथों लपके गए. इसके बाद 20 के कुल योग पर ईशांत ने लिविंगस्टोन (14) को भी बोल्ड कर दिया. लिविंगस्टोन ने 13 गेंदों पर एक चौके और ईशांत की गेंद पर लोंग आन पर एक छक्का लगाया.

 

इन दो झटकों से अभी राजस्थान की टीम संभल भी नहीं पाई थी कि 26 के कुल योग पर संजू सैमसन (5) रन आउट हो गए. सैमसन को पृथ्वी ने डाइरेक्ट हिट पर रन आउट किया. राजस्थान के विकेटों के गिरने का सिलसिला यही नहीं रुका. अपने घरेलू मैदान पर बेहतरीन गेंदबाजी कर रहे ईशांत ने 30 के कुल योग पर महिपाल लोमरूर (8) को पंत के हाथों कैच कराकर अपना तीसरा शिकार पूरा किया. इसके बाद विकेट पर गोपाल और पराग आए. इन दोनों ने संभलकर खेलते हुए स्कोर को मजबूती प्रदान करने की कोशिश शुरू की, लेकिन मिश्रा ने 52 के कुल योग पर पंत के हाथों गोपाल को स्टम्प कराते हुए इस प्रयास को नाकाम कर दिया. पराग के साथ 27 रन जोड़ने वाले गोपाल ने 12 रन बनाए.

 

मिश्रा ने पारी के 12वें ओवर की तीसरी गेंद स्टुअर्ट बिन्नी (0) को पंत के हाथों कैच कराते हुए अपने लिए हैट्रिक का चांस बनाया और नए बल्लेबाज कृष्णप्पा गौतम को अपनी फिरकी में फंसा भी लिया था, लेकिन ट्रेंट बोल्ट आसान सा दिख रहा कैच नहीं लपक सके. इस तरह मिश्रा के हाथ से हैट्रिक का मौका निकल गया. मिश्रा ने हालांकि अपने अगले ही ओवर में गौतम को कैच कराकर तीसरा शिकार पूरा किया. गौतम ने छह गेंदों पर छह रन बनाए. राजस्थान का यह सातवां विकेट 65 के कुल योग पर गिरा. अब पराग का साथ देने आए सोढ़ी. इन दोनों ने संभलकर खेलते हुए 17 ओवर की समाप्ति तक स्कोर 92 रनों तक पहुंचा दिया. ईशांत के चौथे ओवर में इन दोनों ने 18 रन बटोरे. ईशांत ने 4 ओवरों में 38 रन पर तीन विकेट के साथ अपना कोटा पूरा किया.

 

अगले ओवर में हालांकि बाउल्ट ने सोढ़ी को मिश्रा के हाथों कैच कराकर इस जोड़ी को तोड़ दिया. सोढ़ी ने 11 गेंदों का सामना कर छह रन बनाए. बाउल्ट ने अपना पहला शिकार किया. इस बीच राजस्थान ने 18.4 ओवर में अपने 100 रन पूरे किए. पराग ने अंतिम ओवर फेंक रहे बाउल्ट पर दो छक्के लगाते हुए 47 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया. पारी की अंतिम गेंद पर कैच आउट होने वाले पराग ने अपनी पारी में 49 गेंदों में चार चौके और दो छक्के लगाए. वरुण एरॉन तीन रन पर नाबाद लौटे.