दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भारतीय क्रिकेटर्स को ट्रेडिशनल यानी पारंपरिक कपड़े पहनने का आदेश दिया गया है. इस कार्यक्रम में फिरोज शाह कोटला स्टेडियम (जिसे हाल ही में दिवंगत अरुण जेटली के नाम पर कर दिया गया है) के एक स्टैंड का नाम भारतीय कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा जाना है. इस प्रोग्राम में आधिकारिक तौर पर फिरोज शाह कोटला स्टेडियम के नाम को बदल कर अरुण जेटली स्टेडियम भी रखा जाएगा. हालांकि, नाम के बदलने की पुष्टि डीडीसीए पहले भी कर चुका है.

आईएएनएस की एक रिपोर्ट के अनुसार, बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि टीम कोहली को पारंपरिक कपड़ों में कार्यक्रम में भाग लेने के लिए कहा गया है. डीडीसीए का ये कार्यक्रम 12 सितंबर को दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम के वेटलिफ्टिंग ऑडिटोरियम में आयोजित किया जाएगा. टीम इंडिया शुक्रवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए धर्मशाला पहुंचेगी  लेकिन इससे एक दिन पहले टीम इंडिया दिल्ली में इस कार्यक्रम का हिस्सा बनेगी. 15 सितंबर से शुरू होने वाली टी-20 सीरीज में 3 मैच खेले जाएंगे जिसमे दूसरा मैच 18 सितंबर को मोहाली में खेला जाएगा और वहीं तीसरा मैच 22 सितंबर को बेंगलुरु में होना है.

प्रोटियाज, भारत के इस दौरे पर अपनी नई टीम के साथ उतरेगी. जहां एक तरफ टीम में टी-20 के कई महारती जैसे फाफ डु प्लेसी , इमरान ताहिर, हाशिम अमला और डेल स्टेन नहीं हैं. वहीं दूसरी तरफ टीम में युवा आर्मी का कमान डी कॉक को सौंपा गया है. रफ्तार के मशीन रबाडा ने कहा,‘‘ यह बदलाव का दौर है. मुझे खुशी है कि उन खिलाड़ियों के साथ खेल रहा हूं जिनके साथ स्कूल में क्रिकेट खेला है.’’ उन्होंने कहा कि अनुभव के अभाव के बावजूद उन्हें लगता है कि दक्षिण अफ्रीकी टीम इंडिया को हरा सकती है.

भारतीय टीम में भी कुछ बदलाव के आसार नजर आ रहे हैं. जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार की सीनियर पेस-तिकड़ी को आराम दिया गया है, जबकि ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को वेस्ट इंडीज दौरे के लिए आराम दिए जाने के बाद वापस टीम में शामिल किया गया है.