खनाकुल/भवानीपटना: क्रिकेट विश्व कप के सेमी फाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों भारत की हार को पश्चिम बंगाल का एक प्रशंसक बर्दाश्त नहीं कर पाया और दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई. वहीं ओडिशा में एक प्रशंसक ने आत्महत्या करने की कोशिश की. पुलिस ने गुरुवार को बताया कि क्रिकेटर एम एस धोनी के रन आउट होने के सदमे में श्रीकांत मैती को दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौत हो गई. वहीं, ओडिशा के कालाहांडी जिले में 25 वर्षीय एक व्यक्ति ने गुरुवार को जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की. भारत इस मैच में 240 के लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाया. Also Read - पीएम मोदी की रैली के बाद ममता बनर्जी ने कहा, 'हमसे जो टकराता है चूर-चूर हो जाता है'

पुलिस ने बताया कि मैती पश्चिम बंगाल के हुगली जिले में साइकिल ठीक करने वाली एक दुकान के मालिक थे. वह धोनी को आउट होते हुए देखकर बेहोश हो गए. ग्रामीण उन्हें खनाकुल के ग्रामीण अस्पताल में लेकर गए, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. उनके परिवार में उनकी बेटी और बेटा है. Also Read - Farmers Protest: टिकरी बॉर्डर पर एक और किसान ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में कृषि कानूनों को बताया जिम्मेदार

दूसरे ओडिशा के कालाहांडी जिले में 25 वर्षीय एक व्यक्ति ने गुरुवार को जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की. राज्य की पुलिस ने बताया कि सिंघभड़ी गांव के रहने वाले सम्बारू भोई बुधवार शाम में अपने दोस्तों के साथ टीवी पर क्रिकेट मैच देख रहे थे.

पुलिस ने बताया कि भोई को विश्वास था कि भारत यह मैच जरूर जीतेगा और इसको लेकर उन्होंने अपने दोस्तों के साथ बहस भी की थी. बताया जाता है कि भोई मैच के नतीजे से डिप्रेशन में था. वह घर से तड़के जल्दी निकल गया और खेत में जाकर जहर पी लिया. उन्हें धर्मगढ़ के एक अस्पताल में ले जाया गया. बाद में उन्हें जिला अस्पताल भेज दिया. डॉक्टरों के अनुसार अभी उनकी हालत स्थिर है.