विम्बलडन की डिफेंडिंग चैंपियन सिमोना हालेप (Simona Halep) ने आगामी इस टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले लिया है. रोमानिया की इस स्टार खिलाड़ी को बाएं पैर की पिंडली (काफ इंजरी) में चोट के कारण शुक्रवार को इस नामी टूर्नामेंट से हटने का फैसला करना पड़ा. हालेप विश्व रैंकिंग में तीसरे स्थान पर हैं पर विम्बलडन में उन्हें दूसरी वरीयता मिलती क्योंकि रैंकिंग में दूसरे स्थान पर काबिज नाओमी ओसाका पहले ही इस टूर्नामेंट से हट गई हैं.Also Read - बैड होमबर्ग के क्वार्टर फाइनल में एंजेलिक कर्बर-सिमोना हालेप

हालेप को यह चोट इसी साल मई में इटैलियन ओपन के दौरान लगी थी. उनका लक्ष्य फ्रेंच ओपन से वापसी करने का था। वह 2018 में फ्रेंच ओपन चैम्पियन बनीं थी, जबकि साल 2019 में विम्बलडन के फाइनल में उन्होंने अमेरिका की सेरेना विलियम्स को 6-2, 6-2 से हराकर इस खिताब पर अपना कब्जा जमाया था. Also Read - भारत के रामकुमार रामनाथन और युकी भांबरी विंबलडन क्वालीफाईंग के पहले दौर से बाहर

पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के कारण विम्बलडन का आयोजन नहीं हुआ था. इस साल यह टूर्नामेंट विम्बलडन आगामी सोमवार से शुरू होगा. लेकिन हालेप ने ऑल इंग्लैंड क्लब में ड्रॉ जारी होने से पहले ही टूर्नामेंट से हटने की घोषणा कर दी. Also Read - पैर के नए ट्रीटमेंट के बाद राफेल नडाल को विंबलडन में खेलने की उम्मीद

View this post on Instagram

A post shared by Simona Halep (@simonahalep)

29 वर्षीय हालेप ने इंस्टाग्राम पर इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा, ‘मैं बड़ी उदासी के साथ यह घोषणा कर रही हूं कि मैं अपनी पिंडली की चोट के कारण इस चैंपियनशिप से अपना नाम वापस ले रही हूं. मेरी यह अभी पूरी तरह ठीक नहीं हो पाई है.’

उन्होंने कहा, ‘मैंने पूरी कोशिश की कि मैं विम्बलडन में खेल पाऊं और खासतौर से तब जब दो साल पहले मुझे यहां यादगार लम्हे मिले थे. मैंयहां के शानदार कोर्ट्स में बतौर डिफेंडिंग चैंपियन के रूप में वापसी करने की सोचकर बेहत उत्साहित थी और खुद को सम्मानित महसूस कर रही थी. दुर्भाग्य से मेरे शरीर ने सहयोग नहीं दिया और अब मैं अगले साल इसी अहसास के साथ वापसी करना चाहूंगी.’

(इनपुट: पीटीआई)