नई दिल्ली: दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने गुरुवार को दिवंगत राजनेता और खेल प्रशासक अरूण जेटली की याद में फिरोजशाह कोटला का नमा अरूण जेटली स्टेडियम रखा. रंगारंग समारोह में गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्व वित्त मंत्री जेटली के परिवार की मौजूदगी में अरूण जेटली क्रिकेट स्टेडियम का डिजिटल तरीके से उद्घाटन किया. डीडीसीए ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के नाम पर भी फिरोजशाह कोटला पर नए पवेलियन स्टैंड का अनावरण किया. कोहली हाल में टेस्ट क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ते हुए भारत के सबसे सफल कप्तान बने.

 

इस मौके पर अंडर 19 खिलाड़ी से लेकर भारतीय कप्तान बनने के कोहली के सफर को वीडियो और एनिमेशन फिल्म के जरिए दिखाया गया. डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि जब मैंने एक स्टैंड का नाम विराट कोहली के सम्मान पर रखने का फैसला किया तो सबसे पहले इस बारे में अरूण जेटली को बताया. उन्होंने कहा कि यह सही फैसला है क्योंकि विश्व क्रिकेट में विराट से बेहतर खिलाड़ी नहीं है. अनावरण समारोह हालांकि जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम के भारोत्तोलन हाल में हुआ. जेटली के परिवार के सदस्यों के अलावा इस मौके पर खेल मंत्री किरेन रीजीजू, पूर्व खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव, पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान और दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख मनोज तिवारी आदि मौजूद थे.

शर्मा ने कहा कि अरूण जेटली के लिए क्रिकेट उनका जुनून और जीवन था. वह 13 साल तक डीडीसीए प्रमुख रहे और विराट, पंत, धवन, नेहरा, सहवाग को दिग्गज खिलाड़ी बनाने में उनकी अहम भूमिका रही. ये सभी खिलाड़ी उन्हें काफी प्यार करते हैं. भारत की 1983 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान कपिल ने कहा कि विराट के नाम पर स्टैंड होना शानदार है. और अरूण जेटली के लिए डीडीसीए जो भी करे वह उनके योगदान को देखते हुए पर्याप्त नहीं होगा. क्रिकेटर से राजनेता बने चेतन चौहान ने भी जेटली को श्रद्धांजलि दी.