नई दिल्ली: चेन्नइयन एफसी ने रविवार को हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में दिल्ली डायनामोज को उसके घर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 1-1 की बराबरी पर रोक दिया. कालू उचे द्वारा 59वें मिनट में पेनाल्टी पर किए गए गोल के कारण दिल्ली एक समय 1-0 से आगे चल रही थी और लग रहा था कि वह इस सीजन की अपनी तीसरी जीत दर्ज कर लेगी तभी चेन्नइयन के कप्तान मेलिसन अल्वेस ने शानदार हेडर से अपनी टीम को बराबरी करा दी और दिल्ली के मंसूबो पर पानी फेर दिया. Also Read - ISL 2019-20 FINAL: तीसरी बार ISL खिताब जीतने वाला पहला क्लब बना ATK, मिला एएफसी कप का टिकट

Also Read - Indian Super League: एफसी गोवा ने चेन्नइयन एफसी को 3-0 से रौंदकर की धमाकेदार शुरुआत

हालांकि इस जीत से अंकतालिका पर कोई असर नहीं पड़ा है. चेन्नइयन की टीम 14 मैचों में सात जीत, तीन ड्रॉ और चार हार के बाद चौथे स्थान पर ही कायम है. अगर वह यह मैच जीत जाती तो जमशेदपुर एफसी को अपदस्थ कर तीसरे स्थान पर पहुंच जाती. दिल्ली सबसे नीचे 10वें स्थान पर ही बनी हुई है. दोनों टीमों ने बराबरा शुरुआत की, लेकिन चेन्नइयन ने शुरुआत में कुछ हद तक गेंद को अधिक समय तक अपने पास ज्यादा रखा. 16वें मिनट में दिल्ली ने लगभग आत्मघाती गोल कर ही दिया था. ग्रेगोरी नेल्सन ने गोल के सामने गेंद ली और यह गेंद दिल्ली के लुगुन के पास चली गई. उनका हेडर गोलपोस्ट की तरफ गया, लेकिन गोलकीपर जेवियर ने डाइव मार कर उसे रोक लिया. Also Read - आईएसएल की शुरुआत से ही यूथ पर भरोसा करने वाले क्लब है चेन्नइयन एफसी

27वें मिनट में लालिनजुआला चांग्ते ने और पाउलिंहो दियास ने अपनी जुगलबंदी से मेजबान टीम के लिए गोल करना चाहा, लेकिन वह इस काम को सफलतापूर्वक अंजाम नहीं दे सके. पाउलिंहो ने 34वें मिनट में भी बॉक्स के बाहर से गोल करने की कोशिश की थी लेकिन वो गेंद को ऊपर मार बैठे. पहले हाफ के अंत तक आते-आते दिल्ली ने गेंद को अपने पास ज्यादा रखा और मौके बानने के प्रयास भी किए. 40वें मिनट में रोमियो फर्नाडिज ने दिल्ली के लिए एक और मौका बनाया और बॉक्स के अंदर गेंद को डाला जिसे मेलिसन ने असफल कर दिया.

ISL 2018: मुम्बई घरेलू मैदान में बुरी तरह हारी, पुणे ने 2-0 से हासिल की जीत

दिल्ली ने गेंद अपने पास ज्यादा रखी, लेकिन वो उसे गोल में तब्दील नहीं कर पाई. वहीं पहले हाफ के आखिरी मिनट में नेल्सन ने चेन्नइयन के लिए गोल करने अब तक का सबसे आसान और बड़ा मौका गंवा दिया. गेविलान ने उन्हें गेंद दी. नेल्सन के सामने गोलपोस्ट था और इन दोनों के बीच में सिर्फ गोलकीपर. नेल्सन आसानी से गेंद को नेट में डाल सकते थे, लेकिन जल्दबाजी में वह गेंद को गोलपोस्ट के ऊपर खेल बैठे.

नेल्सन ने दूसरे हाफ की शुरुआत में भी गोल करने का मौका खो दिया. 46वें मिनट में गेंद गेविलान के पास आई और उन्होंने गेंद जेजे लालपेख्लुवायो को दी जिन्होंने बॉक्स में उसे नेल्सन को दिया और वह एक बार फिर किक को गोलपोस्ट के ऊपर खेल गए.

इस हाफ में मेहमान टीम हावी नजर आ रही थी और मौके बनाने की ताक में थी. ऐसा ही एक मौका उसने 54वें मिनट में बनाया, जिसे दिल्ली के गोलकीपर जेवियर ने अपनी शानदार गोलकीपिंग से नाकाम कर दिया. जैरी लालरिंजुआला ने गेंद गेविलान को दी, जिन्होंने अपना समय लेते हुए गेंद को मारा लेकिन जेवियर ने शानदार बचाव करते हुए अपनी टीम को गोल खाने से रोक लिया.

चार मिनट बाद दिल्ली को एक बड़ा और आसान मौका मिला और उचे ने उसे गोल में तब्दील करने में कोई गलती नहीं की. इस मिनट में चेन्नइयन के राफेल अगस्तो ने दिल्ली के माथियास मीरबाजे को बॉक्स में गिरा दिया और रेफरी ने इस पर दिल्ली को पेनाल्टी दी. उचे ने इसे गोल में बदल कर दिल्ली को 1-0 से आगे कर दिया.

टीम इंडिया के लिए बेहद घटिया साबित रहा है पोर्ट एलिजाबेथ, पांचवें वनडे में कोहली कैसे टालेंगे हार का खतरा?

गोल खाने के बाद चेन्नइयन ने एक बदलाव किया और गेविलान के स्थान पर रेने मेहलिक मैदान पर आए. 63वें मिनट में मेहमानों के फ्री किक मिली जिसे मेहलिक ने लिया और धनपाल गणेश को दिया, लेकिन वो कुछ कर पाते तब तक लाइंसमैन ने ऑफ साइड करार दे दी. अंत में चेन्नइयन ने कुछ मौके बनाए जिसमें सबसे करीबी मौका 78वें मिनट में था. राफेल बाएं कोने से क्रॉस दिया और मेहलिक ने गेंद पर अच्छे से नियंत्रण बना लिया लेकिन तभी लुगुन उनके शॉट के बीच में आए जिनके शरीर से गेंद टकरा कर साइड में चली और गोलकीपर ने उसे अपने कब्जे में ले लिया.

गोल की कोशिश में लगी चेन्नइयन की कोशिश आखिरकार रंग लाई और 82वें मिनट में उसने स्कोर 1-1 से बराबर कर लिया. चेन्नइयन के लिए यह गोल मेलिसन ने किया. मेहलिक ने बॉक्स के बाहर से गेंद मेलिसन को दी जिन्होंने हेडर से उसे नेट में डाल मेहमान टीम को बराबरी पर ला दिया. मैच के आखिरी मिनट में मेलिसन ने दिल्ली को दूसरा गोल करने से रोक दिया. मैन्युएल अराना भाग कर गोलपोस्ट की तरफ बढ़ रहे थे तभी मेलिसन ने स्लाइड मार उनको रोक दिया.