मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन भारतीय महिला शटलर पीवी सिंधू (PV Sindhu) का खराब फॉर्म डेनमार्क ओपन बैडमिंटन (Denmark Open 2019) में भी जारी रहा. सिंधू (Sindhu) और बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) की हार के साथ गुरुवार को भारतीय चुनौती खत्म हो गई.

‘ICC के किसी फैसले को मानने के लिए BCCI बाध्‍य नहीं’

रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट और मौजूदा टूर्नामेंट में 5वीं सीड सिंधू को कोरियाई प्रतिद्वंद्वी अन सी यंग (An Se-young) ने दूसरे दौर में 40 मिनट में 21-14, 21-17 से पराजित कर उन्हें बाहर कर दिया.

इस वर्ष अगस्त में स्विटजरलैंड में विश्व चैम्पियनशिप (BWF World Championships) में खिताब जीतने के बाद यह सिंधू की शुरूआती दौर में लगातार तीसरी हार है.

वह चाइना ओपन (China Open) के दूसरे और कोरिया ओपन (Korea Open) के पहले दौर में हार गई थीं.

भारत के समीर वर्मा (Sameer Verma), बी साई प्रणीत और पुरूष युगल में सात्विक साइराज रांकिरेड्डी (atwiksairaj Rankireddy) और चिराग शेट्टी (Chirag Chetty) की जोड़ी भी दूसरे दौर में हारकर बाहर हो गई.

पूर्व क्रिकेटर मनोज प्रभाकर और उनकी पत्नी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

समीर को ओलंपिक चैंपियन चीन के चेन लोंग (Chen Long) ने 21 . 12, 21 . 10 से हराया. वहीं थाईलैंड ओपन चैम्पियन सात्विक ओर चिराग को छठी वरीयता प्राप्त चीन के हान चेंग केइ और झोउ हाओ दोंग ने 21-16, 21-15 से मात दी.

प्रणीत को दो बार के विश्व चैम्पियन जापान के केंतो मोमोता (Kento Momota) ने 21-6, 21-14 से हराया.ूूूव

प्रणाव जेरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी भी मिश्रित युगल में चौथी वरीयता प्राप्त मलेशिया के चान पेंग सून और गोह लियू यिंग से 24-26, 21-13, 11 -21 से हारकर बाहर हो गए.

इससे पहले बुधवार को अनुभवी साइना नेहवाल, विश्व के पूर्व नंबर एक किदांबी श्रीकांत और पारुपल्ली कश्यप को हार का सामना करना पड़ा था.