देवधर ट्रॉफी (Deodhar Trophy 2019-20) के दूसरे मुकाबले में इंडिया सी ने शुक्रवार को इतिहास रच दिया. इंडिया ए के खिलाफ मैच में टीम ने इस टूर्नामेंट के इतिहास में एक पारी में सबसे बड़ा स्‍काेेेर बनाया.

पढ़ें:- बुमराह की इस फोटो पर इंग्लैंड की महिला क्रिकेटर ने कसा तंज, फैन्स ने लगाई लताड़

सलामी बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल 120(111) और शुभमन गिल 143(142) के शतकों की मदद से इंडिया सी ने मैच में निर्धारित 50 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 366 रन बनाए.

रांची में खेले जा रहे इस मुकाबले में इंडिया सी ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का फैसला किया. कप्‍तान शुभमन गिल सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर मयंक अग्रवाल के साथ मैदान में आए. दोनों ने पहले विकेट के लिए 226 रन की बड़ी साझेदारी बनाई.

पढ़ें:- विवाद के बाद फारुख इंजीनियर ने अनुष्‍का से मांगी माफी, चाय सर्व करने वाले बयान पर कायम, कहा…

गिल ने अपनी पारी में 10 चौके और छह छक्‍के लगाए. इसी तरह मयंक अग्रवाल ने भी 15 चौके और एक छक्‍का लगाया. अंत में सूर्यकुमार यादव ने 29 गेंद पर 72 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम के स्‍कोर को 366 तक पहुंचाया.

देवधर ट्रॉफी के इतिहास में यह एक पारी में बनाया गया सबसे बड़ा स्‍कोर है. इससे पहले सीजन 2008-09 में डब्‍ल्‍यू जेड ने एनजेड के खिलाफ मैच में 355 रन बनाए थे, जो सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर था. पिछले सीजन में इंडिया सी ने इंडिया बी के खिलाफ दिल्‍ली में खेले गए मैच में 352/7 रन बनाए थे. ये अब तीसरा सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर बन गया है.